40 बुनकर आंशिक रूप से 'अंधे' हुए

रेशम
Image caption राज्य के एक मंत्री का कहना है कि अधिकारी मामले की जांच में लग गए हैं.

कर्नाटक में कच्चे रेशम में कथित रुप से ज़हरीले रसायनों की मिलावट की वजह से कम से कम 40 बुनकरों के आंशिक रुप से अँधे होने का मामला सामने आया है.

राज्य के एक मंत्री का कहना है कि अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं.

ये मामला राज्य के रामानगरम ज़िले का है.

ख़बरों के अनुसार जब से बुनकर चीन से आयातित कपड़ों को बनाने का काम शरू किया तब उन्हें आंखों में तकलीफ़ और जलन की शिकायतें हुईं.

एक अधिकारी का कहना है कि रेशम का वज़न बढ़ाने के लिए रसायनिक पदार्थों का इस्तेमाल किया गया.

अधिकारी के अनुसार रेशम के सूत के नमूने को जांच के लिए भेज दिया गया है.

पिछले हफ़्ते कच्चे रेशम के एक बैग को छूने के बाद चार बुनकरों को अस्पताल में दाख़िल कराया गया.

उनमें से एक पीड़ित अहमद ने कहा, "बैग छूने के तुरंत बाद आंखों में जलन होने लगी और फिर दृष्टि में धुंधलापन आ गया."

एक आंकड़े के अनुसार रेशम उत्पादक रामानगरम और चन्नपटना ज़िले में क़रीब 38 हज़ार बुनकर काम करते हैं.

बुनकरों का कहना है कि इससे पहले उन्हें आंखों में जलन और ज़ख़्म की शिकायत नहीं हुई थी हालांकि वो काफ़ी दिनों से ये काम करते हैं.

इस मामले के सामने आने के बाद इलाक़े और बुनकरों में दहशत का माहौल है.