बिहार में तूफ़ान,20 की मौत

शुक्रवार को बिहार में एक बार फिर झंझावाती कहर बरपा. इसकी चपेट में आकर कम से कम बीस लोगों को मौत हो गई है.

पिछले महीने राज्य के पूर्वोत्तर सीमांचल इलाक़े में आई आंधी ने लगभग सौ जानें ली थीं.

पूर्वी उत्तर प्रदेश की सीमा से लगे बिहार के भभुआ, सासाराम और कैमूर इलाक़े में तूफ़ान का प्रकोप बहुत ज़्यादा दिखा. वहाँ एक स्कूल की छत गिर जाने और एक मोटर वाहन के पलट जाने से छह मौतें हुईं.

राज्य के कई गावों में कहीं दीवारों के ढहने, तो कहीं वाहनों या घरों पर पेड़ गिर जाने से भी लोगों के मारे जाने के समाचार मिल रहे है. आधिकारिक तौर पर मृतकों की संख्या कुल मिलाकर बीस बताई गई है.

बिजली ट्रांसमिशन के तीस टावरों और सैकड़ों खंबों के साथ-साथ बड़ी संख्या में पेड़ों को इस भीषण आंधी ने उखाड़ फेंका. लगभग पचास किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार वाली तेज़ हवा के साथ कहीं-कहीं ज़ोरदार बारिश भी हुई.

पूरे राज्य में बिजली आपूर्ति बुरी तरह प्रभावित हुई है. तूफ़ान-ग्रस्त क्षेत्रों में राहत का काम जल्दी शुरू नहीं किए जाने से लोगों में भारी रोष है.

संबंधित समाचार