दुर्घटनाग्रस्त विमान का ब्लैक बॉक्स मिला

कर्नाटक के मैंगलोर हवाई अड्डे पर हुए विमान हादसे में जांच एजेंसियों को ब्लैक बॉक्स मिल गया है.

नागरिक उड्ड्यन महानिदेशालय (डीजीसीए) के दल ने एयर इंडिया के दुर्घटनाग्रस्त हुए विमान के ब्लैक बॉक्स यानी फ्लाइट डॉटा रिकॉर्डर को ढूंढ़ निकाला है.

इससे इस दुर्घटना की वजह जानने में मदद मिलेगी.

उल्लेखनीय है कि विमान का कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर (सीवीआर) पहले ही मिल गया था.

कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर में पायलट और एयर ट्रैफिक कंट्रोल के बीच अंतिम समय में हुई बातचीत का रिकॉर्ड रहता है जबकि फ्लाइट डॉटा रिकॉर्डर में तकनीकी आंकड़े रहते हैं.

इससे पता चलता है कि फ्लाइट में अंतिम क्षणों में क्या हुआ और इससे जांचकर्ताओं को महत्वपूर्ण जानकारियां मिलती हैं.

हादसा

इस विमान में चालक दल के छह सदस्यों समेत 166 लोग सवार थे. इनमें से 158 लोगों की मौत हो गई थी, लेकिन आठ लोग ज़िंदा बच गए हैं.

मैंगलोर में हुए विमान हादसे की जाँच के आदेश पहले ही दे दिए गए हैं.

इस दुर्घटना के बाद मैंगलोर हवाई अड्डे को लेकर सवाल उठ रहे थे. लेकिन नागरिक उड्डयन मंत्री प्रफुल्ल पटेल ने स्पष्ट किया था कि शुरुआती जाँच से यही लगता है कि रनवे को लेकर कोई समस्या नहीं थी.

उन्होंने बताया था कि सर्बिया के ज़ेड ग्लूसिका इस विमान के पायलट थे और वे काफ़ी अनुभवी थे. उनके सह पायलट एचएस अहलूवालिया को भी अच्छा अनुभव था.

उन्होंने स्पष्ट किया था कि चार साल पुराना मैंगलोर रनवे पूरी तरह सुरक्षित है.

संबंधित समाचार