प्रधानमंत्री की कश्मीर यात्रा

मनमोहन सिंह
Image caption प्रधानमंत्री की यह दूसरी कश्मीर यात्रा होगी.

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह आज से भारत प्रशासित कश्मीर के दो दिवसीय दौरे पर श्रीनगर पहुंच रहे हैं.

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का कश्मीर दौरा ऐसे समय में हो रहा है जब घाटी में फर्ज़ी मुठभेड़ों के आरोप में एक सैन्य अधिकारी पर कार्रवाई हुई है.

प्रधानमंत्री की यात्रा से पहले सुरक्षा के व्यापक इंतज़ाम किए गए हैं क्योंकि पाकिस्तान समर्थक नेता सैयद अली शाह गिलानी और दुखतरन ए मिल्लत की आसिया अंद्राबी ने घाटी में हड़ताल का आह्वान किया है.

सूत्रों के अनुसार प्रधानमंत्री अपनी यात्रा के दौरान अलगाववादियों के समक्ष एक बार फिर बातचीत का प्रस्ताव रख सकते हैं और साथ ही पूर्व में शुरु की गई गोलमेज वार्ताओं में हुई प्रगति की समीक्षा भी कर सकते हैं.

इस यात्रा के दौरान मनमोहन सिंह शेर ए कश्मीर विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह को संबोधित करेंगे. प्रधानमंत्री की यह दूसरी कश्मीर यात्रा होगी.

इस दौरान वो विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं से मिलेंगे और बातचीत करेंगे. उनके साथ केंद्रीय मंत्री फ़ारुख अब्दुल्ला, गुलाम नबी आज़ाद और पृथ्वीराज चौहान भी होंगे.

प्रधानमंत्री की यात्रा से पहले केंद्रीय गृह मंत्री पी चिदंबरम ने अलगाववादी नेताओं के साथ चुपचाप बातचीत शुरु की थी लेकिन इसमें कोई प्रगति नहीं हो सकी क्योंकि हुर्रियत इसमें शामिल नहीं हुआ था.

प्रधानमंत्री अपनी इस यात्रा के दौरान राजनीतिक दलों के अलावा राज्य के वरिष्ठ नौकरशाहों, सेना और पुलिस अधिकारियों से भी मुलाक़ात कर सकते हैं और सीमा पार से होने वाली घुसपैठ से निपटने के उपायों पर विचार कर सकते हैं.

संबंधित समाचार