छत्तीसगढ़ में नक्सली हमला

माओवादी छापामार
Image caption छत्तीसगढ़ में माओवादियों का अत्यधिक प्रभाव है.

माओवादी छापामारों ने छत्तीसगढ़ में दंतेवाड़ा के पास राजमार्ग पर एक पुल को विस्फोट कर उड़ा दिया जिसके कारण छत्तीसगढ़ और आंध्र प्रदेश के बीच राजमार्ग पर वाहनों का आवागमन पूरी तरह ठ़प पड़ गया है.

यह घटना रविवार दोपहर हुई है.पुलिस का कहना है कि यह घटना जगदलपुर से 40 किलोमीटर दूर की है. घटना के बाद से जगदलपुर कोंटा मार्ग पर छोटी और बड़ी गाड़ियों का जाम लग गया है. घटना में किसी के हताहत होने की ख़बर नहीं है.

आंध्र प्रदेश के आदिलाबाद ज़िले में माओवादियों के बड़े नेता चेरुकुरी राजकुमार के कथित पुलिस मुठभेड़ में मारे जाने के बाद गुप्तचर विबाग नें छत्तीसगढ़ सहित नक्सल प्रभावित अन्य राज्यों को सतर्क रहने का अलर्ट जारी किया है.

अलर्ट के मद्देनज़र छत्तीसगढ़ पुलिस नें पूरे राज्य में चौकसी बढ़ा दी है.छत्तीसगढ़ की आंध्र प्रदेश से लगी सीमा पर बड़े नक्सली नेताओं का जमावड़ा होने की सूचना के बाद दक्षिण बस्तर के इलाके में और अधिक चौकसी बरती जा रही है.

इस बीच नक्सल समस्या पर चर्चा करने के लिए केंद्रीय गृह सचिव जीके पिल्लई रविवार के देर रात छत्तीसगढ़ पहुँच रहे हैं.

अपने दो दिनों के दौरे के क्रम में पिल्लई पुलिस और प्रशासन के वरिष्ट अधिकारियों से विचार विमर्श के अलावा राज्य के मुख्यमंत्री रमण सिंह और राज्यपाल से भी मुलाक़ात करेंगे.

सोमवार को पिल्लई राजनंदगांव और कंकड़ इलाके का दौरा करेंगे.

संबंधित समाचार