बच्चों को जलाया, प्रधानाध्यापिका निलंबित

स्कूली छात्र
Image caption भारत में स्कूली छात्रों के साथ ज़्यादती बहस का एक महत्वपूर्ण विषय रही है

आंध्र प्रदेश के एक स्कूल में 11 बच्चों को जलती लकड़ी से सज़ा देने के कारण एक प्रधानाचार्या को निलंबित कर दिया गया है.

ये घटना वारंगल ज़िले के जमंदला पल्ली गाँव में एक प्राथमिक स्कूल में घटी जहाँ सोमवार को दूसरी कक्षा के 11 छात्रों को इतनी क्रूर सज़ा दी गई.

इस घटना से नाराज़ ग्रामीणों ने स्कूल का घेराव किया जिसके अगले दिन प्रधानाचार्या के ख़िलाफ़ कार्रवाई की गई और स्कूल को बंद कर दिया गया.

इस संबंध में महबूबाबाद ज़िले के डिप्टी सुपरिटेंडेंट रामप्रसाद ने बीबीसी को बताया की स्कूल की प्रधानाध्यापिका श्रुति कीर्ति छात्रों के कक्षा में शरारत करने से भड़क उठीं.

इसके बाद उन्होंने स्कूल में ही एक लकड़ी जलाई और उससे उन बच्चों के पैर दाग दिए.

बच्चों के रोते हुए अपने घर पहुँचने पर इस घटना ने तूल पकड़ा.

पुलिस के अनुसार शिक्षा विभाग के मुख़्य ज़िला अधिकारी ने बाद में प्रधानाध्यापिका के निलंबन का फ़ैसला किया.

डीएसपी ने बताया कि निलंबित प्रधानाध्यापिका इस घटना के बाद गाँव नहीं लौटी हैं.

उन्होंने कहा कि पुलिस ने गाँव जाकर जाँच शुरू कर दी है और उनकी रिपोर्ट के आधार पर और कार्रवाई की जाएगी.

संबंधित समाचार