सितंबर में भी भारी बारिश की संभावना

यमुना

भारतीय मौसम विभाग ने सितंबर में भी भारी बारिश का पूर्वानुमान लगाया है. साथ ही इस साल पूरे देश में बारिश सामान्य रहेगी.

मौसम विभाग के अनुसार सितंबर में भी भारी वर्षा होने की संभावना तो है पर ये देश के हर हिस्से में एक समान नहीं होगी.

पूर्वोत्तर भाग में सामान्य से कम वर्षा होगी और कुछ ऐसी ही स्थिति मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में रहेगी.

इस साल झारखंड में हालात सबसे ख़राब रहे जहाँ सामान्य से 45 फ़ीसदी कम वर्षा हुई.

उसी तरह पश्चिम बंगाल में 33 प्रतिशत कम वर्षा हुई लेकिन उत्तर भारत को मानसून ने जमकर भिगोया.

अगर पूरे भारत की बात की जाए तो बारिश सामान्य से केवल दो फ़ीसदी कम रही.

दिल्ली में पिछले 10 वर्षों में इस अगस्त में सबसे अधिक बारिश हुई है.

राजधानी में इस महीने अब तक 423.1 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है.

दिल्ली में अगस्त, 2008 में 310.7 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई थी.

दिल्ली में 1961 में हुई सबसे अधिक 583.3 मिलीमीटर बारिश का रिकॉर्ड अभी तक कायम है.

उल्लेखनीय है कि राजधानी में इस मॉनसून के दौरान अब तक 666.6 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है जो औसत से 40 फ़ीसदी अधिक है.

संबंधित समाचार