बटला के 'शहीदों को श्रद्धांजलि'

बटला हाउस
Image caption बटला हाउस इलाके़ में हुए मुठभेड़ को लेकर कई सवाल उठाए गए थे

जामा मस्ज़िद के पास हुए हमले के बाद बीबीसी हिंदी को भेजे ईमेल में इंडियन मुजाहिदीन नामक संगठन ने संकेत दिया है कि ये हमला बटला हाउस मुठभेड़ में मारे गए लोगों का बदला हो सकता है.

ईमेल में स्पष्ट रुप से जामा मस्ज़िद के पास हुए हमले की सीधे तौर पर ज़िम्मेदारी नहीं ली गई है लेकिन इशारा किया गया है कि ये बटला हाउस में मारे गए ‘दो शहीदों को श्रद्धांजलि’ है..

इंडियन मुजाहिदीन का ईमेल

पाँच पन्नों के इस ईमेल के चौथे पन्ने के दूसरे पैरा में ये ईमेल कहता है, ‘‘ अल्लाह के नाम पर हम इस हमले को शहीद आतिफ़ अमीन और शहीद मुहम्मद साजिद को श्रद्धांजलि के रुप में समर्पित करते हैं. जिन्होंने इसी दिन दिल्ली पुलिस के साथ लड़ते हुए हिम्मत अपनी जान गंवाईं.’’

मेल आगे कहता है कि इन दोनों की मौतों के बाद इंडियन मुजाहिदीन के समर्थकों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है.

उल्लेखनीय है कि आतिफ अमीन और मुहम्मद साजिद बटला हाउस की मुठभेड़ में मारे गए थे. इन दोनों की मौत के बाद लोगों ने दिल्ली पुलिस पर आरोप लगाए थे कि ये दोनों बेकसूर हैं और पुलिस ने इन्हें फ़र्ज़ी मुठभेड़ में मार गिराया है.

19 सितंबर 2008 को बटला हाउस में मुठभेड़ हुई थी जिसमें मुहम्मद साजिद और आतिफ़ अमीन मारे गए थे जिन पर दिल्ली में हुए हमलों में शामिल होने का आरोप था.

इस मेल में सीधे सीधे जामा मस्जिद के पास हुए हमले की ज़िम्मेदारी नहीं ली गई है लेकिन कॉमनवेल्थ खेलों को लेकर चेतावनी ज़रुर दी गई है.

यह ईमेल बीबीसी को दोपहर 1.40 मिनट पर मिला है. इसके अंत में रविवार की तारीख़ 19 सितंबर 2010 लिखी है. भेजने वाले ने जिस ईमेल आईडी से मेल लिखी है वह है - al.arbi999123@gmail.com. ईमेल के अंत में हाथ से AL-ARBi लिखा गया है.

संबंधित समाचार