'इंडियन मुजाहिदीन' का बीबीसी को भेजा संदेश

इंडियन मुजाहिदीन का लोगो
Image caption 'इंडियन मुजाहिदीन' ने सीधे तौर पर इस घटना की ज़िम्मेदारी नहीं ली है लेकिन चेतावनी दी है कि कॉमनवेल्थ गेम्स उसके निशाने पर है

भारत की राजधानी दिल्ली के जामा मस्ज़िद में हुए हमले के दो घंटे बाद बीबीसी हिंदी को ख़ुद को 'इंडियन मुजाहिदीन' बताने वाले संगठन का ईमेल मिला है जिसमें कॉमनवेल्थ गेम्स को निशाना बनाने की चेतावनी दी गई है.

ईमेल में कहीं भी रविवार को हुए हमले का सीधा ज़िक्र नहीं है. लेकिन ईमेल में ये ज़रूर कहा गया है - "अल्लाह के नाम में, हम ये हमला आतिफ़ अमीन, मोहम्मद साजिद को श्रद्धांजलि से रूप में पेश करते हैं..."

जब बीबीसी ने दिल्ली पुलिस के संयुक्त आयुक्त करनैल सिंह से इस मेल के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है और मामले की जांच चल रही है.

उनका कहना था, '' हमें ईमेल के बारे में कोई जानकारी नहीं है. हम फायरिंग की पूरी जांच कर रहे हैं.''

दिल्ली में फायरिंग

यह ईमेल बीबीसी को दोपहर 1.40 मिनट पर मिला है. इसके अंत में रविवार की तारीख़ 19 सितंबर 2010 लिखी है. भेजने वाले ने जिस ईमेल आईडी से मेल लिखी है वह है - al.arbi999123@gmail.com. ईमेल के अंत में हाथ से AL-ARBi लिखा गया है.

क़रीब पाँच पन्नों के इस पत्र में कश्मीर में सुरक्षा बलों की कथित ज़्यादतियों का ज़िक्र करते हुए कहा गया है - "हम आपको चेतावनी देते हैं कि अगर आप में हिम्मत है तो कॉमनवेल्थ गेम्स का आयोजन करके दिखाएँ. हमें पता है कि तैयारियां ज़ोरों पर हैं - तैयार रहें...हम भी तैयारी कर रहे हैं चौंकाने वाला घटना की. गेम्स में भाग लेने वाले प्रतियोगी इसके परिणामों के लिए ख़ुद ज़िम्मेदार होंगे."

इस पत्र में आतिफ़ अमीन और मुहम्मद साजिद को 'शहीद' क़रार दिया गया है. बटला हाउस मुठभेड़ में दिल्ली पुलिस ने इन दोनों को मारने का दावा किया था. पत्र में कहा गया है कि 'मोहम्मद साजिद और शहीद आतिफ़ अमीन की मौत का बदला भी लिया जाएगा.'

घटनास्थल की तस्वीरें

पत्र में मुंबई के पुलिस आयुक्त राकेश मारिया का भी ज़िक्र है और कहा गया है - "बेक़सूर मुस्लिम युवकों को गिरफ़्तार करके ईमानदार अधिकारी होने के भ्रम को साफ़ कर दिया है."

इस पत्र में कुरान की आयतें बार-बार लिखी गई हैं और इसमें विशेष रुप से ईद के बाद घाटी में हुई मौतों का ज़िक्र है और कहा गया है कि कश्मीरियों की जान ली जा रही है. पत्र कहता है, "हमारा ख़ून बह रहा है तो आपका भी बहेगा. हमारे मासूम लोग मर रहे हैं तो आपको भी बख्शा नहीं जाएगा."

राष्ट्रमंडल खेलों की पूरी सुरक्षा

अंग्रेज़ी में लिखे गए इस ईमेल में कुरान की छह आयतें अलग अलग स्थानों पर अंग्रेज़ी अनुवाद के साथ दी गई हैं. कश्मीर पर पंडित जवाहर लाल नेहरु द्वारा पाकिस्तान के प्रधानमंत्री लियाकत अली खान को भेजे गए एक टेलीग्राम का मैटर भी इसमें दिया गया है.

पत्र के आखिरी पन्ने में पूरे मुसलिम समुदाय से हिंदुओं के ख़िलाफ़ बगावत करने की अपील भी की गई है.

संबंधित समाचार