पीडीपी करेगी विधानसभा सत्र का बायकॉट

महबूबा मुफ़्ती
Image caption मेहबूबा मुफ़्ती की पार्टी ने भारत प्रशासित कश्मीर में हाल ही में हुई मौतों के लिए राज्य सरकार को दोषी ठहराया है

भारतीय राज्य जम्मू कश्मीर के मुख्य विपक्षी दल पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी यानी पीडीपी ने राज्य विधान सभा के सत्र का बायकॉट या बहिष्कार करने का फैसला किया है.

जम्मू कश्मीर विधान सभा का गुरुवार से शुरू हुआ सत्र अगले दस दिनों तक जारी रहेगा.

पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ़्ती ने सदन में भाषण देते हुए कहा कि राज्य में मौजूद उमर अब्दुल्लाह की सरकार की ग़लतियों से सूबे में ऐसे हालात पैदा हो गए हैं जिसने राजनीतिक ज़मीन ही ख़त्म कर दी है.

उन्होंने कहा, "सरकार की बात छोड़ दें हालात यह हैं कि विपक्ष के नेता भी उन परिवारों के यहाँ जाने से डर रहे हैं जिनके बच्चे पिछले दिनों की हिंसा के दौरान मारे गए हैं.”

महबूबा मुफ़्ती का कहना था कि आम लोगों का विश्वास हासिल करने के लिए सरकार को सुरक्षा बलों के उन लोगों के ख़िलाफ़ कार्रवाई शुरू करने का ज़रूरत है जो इन हत्याओं के लिए ज़िम्मेदार हैं.

सदन ने पिछले तीन महीनों के दौरान मारे गए 109 लोगों और लेह में बादल फटने की घटना में हताहत हुए लोगों को श्रध्दाजंलि अर्पित की.

संबंधित समाचार