भाजपा-कांग्रेस में वेबसाइट को लेकर तकरार

भाजपा नेता (फ़ाइल फ़ोटो)
Image caption कांग्रेस ने भाजपा को कानूनी नोटिस भेजा है

भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस पर नाम चुराने का आरोप लगाया है. दरअसल रविवार दोपहर तक यदि कोई 'बीजेपी डॉट कॉम' से भाजपा की वेबसाइट खोलने का प्रयास कर रहा था तो अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की वेबसाइट खुल जाती थी.

भाजपा का कहना है कि उसने इस संबंध में कांग्रेस को क़ानूनी नोटिस भेजा है और 48 घंटे के भीतर जवाब मांगा है.

भाजपा की प्रवक्ता निर्मला सीतारमन ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, "ये ग़ैरकानूनी है. ऐसा जानबूझ कर किया गया है. हमने कांग्रेस को इस सिलसिले में नोटिस भेजा है."

भाजपा का कहना है कि जब गूगल पर 'बीजेपी डॉट कॉम' टाइप कर सर्च किया जाता है तो 'भारत जर्नल्स एंड पब्लिशर्स' नाम की एक अनजान संस्था का ये दावा सामने आता है कि 'बीजेपी डॉट कॉम' उसका डोमेन है.

और जब भारत जर्नल्स एंड पब्लिशर्स टाइप कर सर्च किया जाता है तो सबसे पहले कांग्रेस की वेबसाइट सामने आती है.

भाजपा के अनुसार इस बात से साबित हो जाता है कि 'बीजेपी डॉट कॉम' डोमेन पर अपना दावा करने वाली संस्था कांग्रेस से संबंधित है.

दूसरी ओर कांग्रेस ने इसमें किसी भी तरह का हाथ होने से इंकार किया है और इस आरोप को बेबुनियाद क़रार दिया है.

कांग्रेस नेता टॉम वडक्कन ने मीडिया से बातचीत में कहा कि कांग्रेस को न तो ऐसा करने की ज़रूरत है और न ही उसने ऐसा किया है.

ग़ौरतलब है कि भाजपा की आधिकारिक वेबसाइट 'बीजेपी डॉट ओआरजी' और कांग्रेस की 'कांग्रेस डॉट ओआरजी डॉट इन' है.

संबंधित समाचार