सीपी ठाकुर का इस्तीफा, भाजपा में खलबली

Image caption सीपी ठाकुर केंद्रीय मंत्री भी रह चुके हैं

बिहार में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सीपी ठाकुर ने इस्तीफा दे दिया है.

उनके इस कदम से भाजपा में खलबली मच गई है.

इस घटना के बाद भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेतृत्व की तरफ से उनके मान मनौव्वल की कोशिशें शुरू हो गईं हैं.

बिहार में ठीक चुनाव के वक्त सीपी ठाकुर की ओर से इस्तीफा देना पार्टी के लिए एक बड़ा झटका माना जा रहा है. सीपी ठाकुर ने कहा, "टिकट बंटवारे में न तो मेरे सुझावों पर पूरा ध्यान दिया गया और न ही कुछ सीटों पर उम्मीदवारी देने में हमें विश्वास में लिया गया."

उन्होंने कहा, "अब पार्टी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है तो प्रचार में भी नहीं जाऊंगा."

सीपी ठाकुर के घर के बाहर उनके समर्थक भारी संख्या में जमा हैं.

ये लोग बिहार के उप-मुख्यमंत्री सुशील मोदी के ख़िलाफ़ नारे लगा रहे हैं. इनका मानना है कि ठाकुर के इस कदम के लिए सुशील मोदी ही जिम्मेदार हैं.

बताया जा रहा है कि बिहार भाजपा के अध्यक्ष टिकट बंटवारे के मुद्दे पर काफ़ी नाराज हैं.

चर्चा है कि इस बार राज्य के बांकीपुर विधान सभा क्षेत्र से वे अपने बेटे की उम्मीदवारी की कोशिश कर रहे थे. लेकिन इस क्षेत्र से टिकट पटना पश्चिम के विधायक नितिन नवीन को दे दिया गया है.

संबंधित समाचार