'कश्मीर भारत का अभिन्न अंग नहीं'

अरुंधति रॉय
Image caption अरुंधति रॉय कई बार अपने बयानों के कारण विवादों में रही हैं

जानी-मानी लेखिका और सामाजिक कार्यकर्ता अरुंधति रॉय ने कहा है कि कश्मीर कभी भी भारत का अभिन्न अंग नहीं रहा है.

पिछले दिनों कश्मीर के भारत में विलय पर सवाल उठाकर विवाद खड़ा करने वाली अरुंधति रॉय ने श्रीनगर में एक सेमिनार के दौरान ये बातें कहीं.

गुरुवार को ही दिल्ली में कश्मीर पर हुए उस सेमिनार में भी अरुंधति मौजूद थीं, जिसको लेकर काफ़ी बवाल मचा था.

कश्मीरी अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी पर देशद्रोह का मुक़दमा चलाने की मांग उठी थी.

सवाल

लेकिन रविवार को एक बार फिर अरुंधति रॉय ने सेमिनार में कश्मीर के भारत का अभिन्न अंग होने पर ही सवाल उठा दिया.

श्रीनगर में आयोजित इस सेमिनार का विषय था- मुरझाया कश्मीर: आज़ादी या दासता. इस सेमिनार का आयोजन किया था 'कोअलिशन ऑफ़ सिविल सोसाइटीज़' ने.

इस सेमिनार में अरुंधति रॉय ने कहा, "कश्मीर कभी भी भारत का अभिन्न अंग नहीं रहा है. यह ऐतिहासिक तथ्य है. भारत सरकार ने भी इसे स्वीकार किया है."

उन्होंने आरोप लगाया कि ब्रितानी शासन से आज़ादी के बाद भारत ख़ुद औपनिवेशिक शक्ति बन गया.

संबंधित समाचार