प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

संडे के संडे: पवन वर्मा के साथ

इस बार संडे के संडे में लेखक और कूटनीति के माहिर पवन वर्मा से विशेष मुलाकात. कम से कम पंद्रह किताबें लिख चुके पवन वर्मा भारतीय विदेश सेवा के वरिष्ठ अधिकारी हैं और इन दिनों भूटान में भारत के राजदूत हैं. ग़ालिब, कृष्ण और भारतीय मध्यम वर्ग पर उनकी किताबें काफ़ी सराही गई हैं.

पवन वर्मा की नई किताब 'भारतीयता की ओर – संस्कृति और अस्मिता की अधूरी कहानी' पेंगुइन बुक्स और यात्रा बुक्स ने प्रकाशित की है. इस किताब में इन्होंने संस्कृति, भाषा, कला और अस्मिता के सवालों को उठाया है और ये दिखाया है कि साम्राज्यवादी ताक़तों के उपनिवेश रह चुके समाज कैसे अपनी परंपरा, भाषा और संस्कृति से काट दिए जाते हैं. क्लिक करें और पूरा इंटरव्यू सुनें.