वार्ता भारत-पाक के हित में: रोमर

भारत में अमरीका के राजदूत टिमोथी रोमर का कहना है कि बातचीत भारत और पाकिस्तान के हित में है.उन्होंने कहा कि अगर शांति स्थापित होती है तो इलाक़े का विकास होगा और इससे ग़रीबी उन्मूलन में मदद मिलेगी.

ये बातें टिमोथी रोमर ने जयपुर में बीबीसी से बातचीत में कही. अमरीकी राजदूत ने अपना पूरा दिन जयपुर में चल रहे साहित्य उत्सव में गुज़ारा और लेखकों और किताबों की दुनिया से रूबरू हुए.

राजदूत ने भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की ये कहते हुए काफ़ी तारीफ़ की कि वो बहुत मज़बूत इंसान हैं.

उन्होंने कहा, ''जब दक्षिण एशिया क्षेत्र में शांति प्रयासों पर नज़र डालते हैं तो, मुझे लगता है मनमोहन सिंह एक सशक्त नेता हैं, वे सिंद्धातों वाले व्यक्ति हैं, जब पाकिस्तान से बातचीत का मौका आया तो उन्होंने अपनी शर्तों पर बात की. जब दोनों देशों ने बात करना तय किया तो अमरीका ने इसे मज़बूती से समर्थन दिया.”

भारत-अमरीका रिश्तों पर उन्होंने कहा कि दोनों रिश्तों की बुनियाद बहुत मज़बूत है.

जयपुर में उन्होंने कहा, “हम दोनों मुल्क आतंकवाद के विरुद्ध काम कर रहे है.हम दिन प्रति दिन,घंटे प्रति घंटे और कभी कभी मिनट मिनट में जानकारियों का आदान प्रदान करते हैं.”

अमरीकी राजदूत ने कहा कि दोनों देश साझा तौर पर काम कर रहे हैं जिससे दोनों देशों के लोगों के सम्मान और हितों की रक्षा हो सके.

उनका कहना था, “अमरीका में जब आतंकवादी हमला हुआ तो तीन हज़ार लोगों की जान गई, इनमें 42 भारतीय भी थे. इसी तरह मुंबई में जब आतंकवादियो ने हमला किया तो इसमें छह अमरीकी नागरिकों को जान से हाथ धोना पड़ा. हम दोनों देश अब मिलकर आतंकवाद की बुराई के खिलाफ लड़ रहे है.”

संबंधित समाचार