ग़लत भाषण पढ़ने का ग़म नहीं

एसएम कृष्णा इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption एसएम कृष्णा ने अनजाने में पुर्तगाली विदेश मंत्री के भाषण का कुछ अंश पढ़ दिया था

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में एक बहस के दौरान अनजाने में पुर्तगाल के विदेश मंत्री के भाषण के शुरुआती अंश पढ़ने वाले भारतीय विदेश मंत्री एसएम कृष्णा ने कहा है कि ये कोई बड़ी बात नहीं है.

एसएम कृष्णा ने कहा कि ऐसी चीज़ें होती हैं क्योंकि इस तरह के भाषणों के शुरुआती कुछ अंश एक जैसे ही होते हैं.

विदेश मंत्री ने कहा, "इसमें कोई ग़लत बात नहीं है. कई तरह के काग़ज़ मेरे सामने पड़े हुए थे और अनजाने में मैंने ग़लत भाषण ले लिया."

शुक्रवार को सुरक्षा परिषद में सुरक्षा और विकास पर चर्चा चल रही थी और एसएम कृष्णा क़रीब तीन मिनट तक ग़लत भाषण पढ़ते रहे.

अहसास

बाद में संयुक्त राष्ट्र में भारतीय दूत हरदीप सिंह पुरी ने एसएम कृष्णा को इस ग़लती का अहसास कराया.

बाद में विदेश मंत्री एसएम कृष्णा ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया लेकिन ये भी कहा कि ऐसी चीज़ें होती हैं.

उन्होंने बताया कि भाषण का पहला हिस्सा आम तौर पर समान ही होता है, जिसमें प्रतिनिधियों का स्वागत किया जाता है. इसमें कुछ आम चीज़ें भी होती हैं, जैसे- संयुक्त राष्ट्र से जुड़े विकास और सुरक्षा के मामले.

लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि भाषण की कुछ पंक्तियाँ सामान्य नहीं थी.

संबंधित समाचार