राहत फ़तेह अली ख़ान हिरासत में

राहत फतेह अली खान
Image caption राहत फतेह अली खान के गाने भारत में अत्यंत लोकप्रिय रहे हैं.

पाकिस्तान के जाने माने गायक राहत फ़तेह अली ख़ान और उनके ग्रुप को इंदिरा गांधी हवाई अड्डे पर उस समय रोक लिया गया जब उनके पास से क़रीब सवा लाख डॉलर नगद मिले.

राजस्व गुप्तचर निदेशालय के अधिकारियों ने 37 वर्षीय राहत समेत उनके ग्रुप के 16 सदस्यों और मैनेजर मारुफ़ को हिरासत में रखा है और उनसे पूछताछ की जा रही है.

अधिकारियों के अनुसार सवा लाख डॉलर की इस रकम के बारे में ग्रुप ने जानकारी नहीं दी थी और इतनी बड़ी मात्रा में विदेशी पैसा बिना घोषणा के लेकर चलना संदेह पैदा करता है.

जाने माने पाकिस्तानी गायक स्वर्गीय नुसरत फ़तेह अली ख़ान के भतीजे राहत फ़तेह अली ख़ान भी भारत में काफ़ी सफल रहे हैं और उनके गाए कई गीतों ने बॉलीवुड में धूम मचाई है.

जाँच

अधिकारियों के अनुसार यह ग्रुप एमीरेट्स के विमान से दुबई से लाहौर जा रहा था और इमीग्रेशन जांच के दौरान उन्होंने विदेशी मुद्रा के बारे में जानकारी नहीं दी.

सेंट्रल बोर्ड ऑफ एक्साइज़ एंड कस्टम्स के चेयरमैन एस दत्त मजूमदार का कहना था, ‘‘ राजस्व अधिकारियों को कुल एक लाख 24 हज़ार डॉलर मिले हैं जो करीब साठ लाख रुपए होते हैं. राहत के पास जो बैग था सारे पैसे उसी में थे. दो अन्य सदस्यों के बैग में से पचास हज़ार डॉलर मिले हैं.’’

अधिकारियों के अनुसार कुछ धन डिमांड ड्रॉफ्ट की शक्ल में था और कुछ पैसा ट्रैवलर्स चेक की शक्ल में.

मजूमदार का कहना था, ‘‘क़ानून अपना काम करेगा. राहत और उनके ग्रुप से पूछताछ चल रही है. उनके बयानों के आधार पर तय होगा कि उनका अपराध कितना बड़ा है और उसी पर तय होगा कि उन्हें गिरफ़्तार किया जाए या नहीं.’’

क़ानून के मुताबिक कोई भी यात्री दस हज़ार डॉलर से अधिक की राशि नहीं ले जा सकता जिसमें से पाँच हज़ार कैश हो सकते हैं और बाकी राशि किसी और शक्ल में हो सकती है.

संबंधित समाचार