जापान में आपात बजट को मंजूरी

भूकंप से तबाही इमेज कॉपीरइट AFP

जापान के मंत्रिमंडल ने सुनामी और भंयकर भूकंप से हुई तबाही के बाद पुनर्निर्माण के लिए 50 अरब डॉलर के आपात बजट को मंज़ूरी दी है. अब इस आपात बजट को संसद से मंज़ूरी लेनी होगी.

टोक्यो से बीबीसी संवाददाता रोनाल्ड बुएर्कका कहना है कि भंयकर भूकंप और सुनामी के कारण लगभग तीन खरब डॉलर से ज़्यादा की संपत्ति का नुक़सान हुआ है.

इस आपात बजट का इस्तेमाल अस्थायी आवास की व्यवस्था करने, बंदरगाहों को दुरुस्त करने, सड़कों के पुनर्निर्माण और मलबे को हटाने में किया जाएगा.

जापान का राष्ट्रीय क़र्ज़ पहले से ही विकसित देशों के क़र्ज़ के अनुपात में सबसे ज़्यादा है.

कटौती

हालांकि भविष्य के आपात बजट के लिए जापान को और क़र्ज़ की ज़रूरत पड़ेगी और इसके लिए उसे अपने ख़र्चों में भारी कटौती करनी होगी.

सरकार का कहना है कि वो आपात बजट के लिए और क़र्ज़ नही लेगी. ऐसी योजना है कि राष्ट्रीय राजमार्गों पर लगने वाला कर बढ़ा दिया जाएगा और बच्चों के साथ रह रहे परिवारों के लिए भत्ते बढ़ाने वाला प्रस्ताव रद्द कर दिया जाएगा.

साथ ही करों को बढ़ाने पर भी चर्चा हो रही है. अगले हफ़्ते इस आपात बजट को संसद की मंज़ूरी के लिए रखा जाएगा .

सरकार को उम्मीद है कि विपक्ष की प्रधानमंत्री नाओतो कान के इस्तीफ़े की मांग के बावजूद बजट पारित हो जाएगा.

संबंधित समाचार