क्या है भट्टा पारसौल की असलियत?

मीडिया प्लेयर

इस ऑडियो/वीडियो के लिए आपको फ़्लैश प्लेयर के नए संस्करण की ज़रुरत है

वैकल्पिक मीडिया प्लेयर में सुनें/देखें

उत्तर प्रदेश में ग्रेटर नोएडा के पास भट्टा पारसौल गाँव में सात मई को हुए पुलिस गोलीकांड के बाद गाँव के लोग अब भी ये नहीं जानते कि कितने लोग लापता हैं और उनमें से कितने सुरक्षित हैं.

काँग्रेस महासचिव राहुल गाँधी ने आरोप लगाया था कि गाँव में राख की ढेर के नीचे शव हैं और वहाँ महिलाओं के साथ बलात्कार किया गया. लेकिन गाँव वालों से बात करने के बाद इस बात के कोई संकेत फ़िलहाल नहीं मिले हैं कि इस गोलीकांड में भट्टा गाँव के ज़्यादा लोग मारे गए हैं.

महिलाओं ने ये तो कहा है कि पुलिस और पीएसी वालों ने उन्हें बुरी तरह पीट पीट कर घायल कर दिया और भद्दी भद्दी गालियाँ दीं, लेकिन बलात्कार की बात से वो इनकार करती हैं. बीबीसी संवाददाता राजेश जोशी ने भट्टा पारसौल जाकर ये पड़ताल की.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.