मंत्री को पाया गया दोषी

मायावती (फाइल फोटो)
Image caption पिछले कुछ दिनों में मायावती के कई मंत्री और पार्टी के विधायक अनेक आपराधिक मामलों में दोषी पाए गए हैं.

उत्तर प्रदेश के लोक आयुक्त जस्टिस एनके मेहरोत्रा ने मायावती सरकार के एक मंत्री अनीस अहमद खान उर्फ़ फूल बाबू को अपनी ही शिक्षण संस्था को विधायक निधि से लगभग एक करोड़ रूपये देने का दोषी पाया है.

लोक आयुक्त कार्यालय के एक अधिकारी के अनुसार जस्टिस एनके मेहरोत्रा ने पिछले वृहस्पतिवार को मुख्य सचिव को निर्देश दिया है कि लाभार्थी संस्था से धनराशि वसूल की जाए और नियम विरुद्ध स्वीकृति देने के लिए पीलीभीत के मुख्य विकास अधिकारी के खिलाफ अनुशासन की कार्रवाई की जाए.

लोक आयुक्त ने यह आदेश एक स्थानीय व्यक्ति की शिकायत की जांच पड़ताल के बाद दिया. जांच पड़ताल के दौरान मंत्री और मुख्य विकास अधिकारी से भी जवाब तलब किया गया था.

मंत्री ने अपने विधायक निधि का पैसा पीलीभीत के विलासपुर में शफी खान मेमोरियम मुस्लिम पब्लिक एजुकेशन सोसायटी को दिया था, जो एक कालेज चलाती है.

मंत्री और उनके परिवार के लोग इस संस्था की प्रबंध समिति में हैं. इससे पहले आगरा के एक मामले में भी ऐसा ही आदेश दिया गया था.

लोक आयुक्त कार्यालय के अनुसार सरकार को ऐसे मामलों में तीन महीने के अन्दर कार्रवाई करनी होती है.

विधायक और सांसद निधि का प्राविधान छोटे मोटे क्षेत्रीय विकास कार्यों के लिए किया गया है.

लेकिन इस निधि के दुरूपयोग और भ्रष्टाचार की बड़े पैमाने पर शिकायतें हैं. हाल ही में बिहार सरकार ने विधायक निधि की व्यवस्था ही ख़त्म कर दी है.

संबंधित समाचार