माया सरकार पर सोनिया का 'हल्ला बोल'

सोनिया गांधी इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption सोनिया गांधी ने विपक्ष पर निशाना साधा

कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी के बाद अब कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उत्तर प्रदेश की मायावती सरकार के ख़िलाफ़ मोर्चा खोला है.

वाराणसी में उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अधिवेशन में सोनिया गांधी ने उत्तर प्रदेश सरकार पर हल्ला बोल दिया. मायावती सरकार पर तल्ख़ टिप्पणी करते हुए सोनिया ने कहा कि पूरे राज्य में कुशासन है.

उन्होंने कहा, "उत्तर प्रदेश अंधेर नगरी बन गया है. यहाँ क़ानून का राज ख़त्म हो गया है. चारों ओर अराजकता है. कोई ऐसी जगह नहीं, जहाँ अन्याय और भ्रष्टाचार न हो."

उन्होंने कहा कि किसी ज़मान में उत्तर प्रदेश सेवा और त्याग के साथ-साथ देश को नेतृत्व देने के लिए जाना जाता था, लेकिन अब ये सब बातें पुरानी हो गई हैं और अब यहाँ सिर्फ़ लूट है.

शर्मिंदगी

सोनिया गांधी ने कहा कि राज्य में सिद्धांतों को ताक पर रखकर अवसरवादी राजनीति की जा रही है, लेकिन जनता के दुख दर्द को सुनने वाला कोई नहीं है.

ग्रेटर नोएडा के भट्टा पारसौल गाँव में हुई हिंसा का ज़िक्र करते हुए उन्होंने कहा, "गौतम बुद्ध नगर ज़िले में किसानों के साथ जो बर्बरता हुई है, उससे हम शर्मिंदा हैं. उत्तर प्रदेश सरकार सिर्फ़ किसानों की ज़मीन हड़पना चाहती है. ये किसानों की लूट की साज़िश है."

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया ने कहा कि उनकी पार्टी ये बर्दाश्त नहीं करेगी.

राज्य की हालत की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा, "राज्य में उद्योग बंद हो रहे हैं. सरकारी मिलें बेच दी गई हैं, अस्पतालों की हालत ख़राब है. बुनकर भाइयों की स्थिति भी ख़राब है."

उन्होंने कहा कि केंद्र की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) सरकार ने उत्तर प्रदेश के विकास के लिए भारी भरकम धनराशि दी है और बुनकरों के लिए ख़ास पैकेज दिया है. उन्होंने बुंदेलखंड के लोगों के लिए केंद्र की ओर से दिए गए पैकेज का भी ज़िक्र किया.

संघर्ष

सोनिया गांधी ने प्रदेश के पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे पूरी एकता के साथ जनता की समस्याओं के लिए संघर्ष करें.

सोनिया ने विपक्षी भारतीय जनता पार्टी पर भी निशाना साधा और वामपंथियों को भी नहीं छोड़ा.

उन्होंने कहा, "हाल ही में संपन्न विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को अच्छी सफलता मिली है. लेकिन भाजपा को इन राज्यों में क्या मिला और वामपंथियों का तो सफ़ाया ही हो गया."

सोनिया गांधी ने भ्रष्टाचार के आरोपों पर अपनी टिप्पणी में कहा कि दूसरों पर उंगली उठाने वालों को अपने अंदर भी झाँकना चाहिए.

उन्होंने कहा, "जिनके घर शीशे के होते हैं वो पत्थर नहीं मारते. सरकार ने सख़्ती से भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ कार्रवाई की, लेकिन क्या एनडीए सरकार ने ऐसे क़दम उठाए?"

सोनिया ने कहा कि जो जैसा करेगा वैसा ही भरेगा. उन्होंने प्रदेश के लोगों को आश्वासन दिया कि कांग्रेस पार्टी उनके विश्वास की रक्षा करेगी.

संबंधित समाचार