मृतकों के लिए पाँच-पाँच लाख

घायलों का इलाज इमेज कॉपीरइट AFP

महाराष्ट्र सरकार ने बुधवार को मुंबई हमलों में मारे गए मृतकों के परिजनों को पाँच-पाँच लाख का मुआवज़ा देने की घोषणा की है.

उन्होंने घायलों के लिए 50-50 हज़ार का मुआवज़ा देने की भी घोषणा की है.

मुंबई के दादर कबूतरख़ाना, झावेरी बाज़ार और ओपेरा हाउस इलाक़ों में बुधवार की शाम एक के बाद तीन हमले हुए थे. इन हमलों में अब तक 17 लोगों के मारे जाने और 131 लोगों के घायल होने की ख़बरें हैं.

घायलों में 23 गंभीर रुप से घायल हुए हैं.

मंत्रिपरिषद की बैठक

मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चौहान ने गुरुवार को अपने मंत्रिमंडल की एक आपात बैठक की है.

Image caption पृथ्वीराज चौहान ने इस बात से इनकार किया कि कई जगह सुरक्षा कैमरे काम नहीं कर रहे हैं

इस बैठक में विस्फोट में मारे गए लोगों के लिए एक शोक प्रस्ताव पारित किया गया.

बैठक के बाद मुख्यमंत्री ने बताया कि इसके अलावा घायलों के इलाज के बारे और चिकित्सा व्यवस्था के बारे में भी चर्चा की गई.

उन्होंने बताया कि सुरक्षा व्यवस्था और अन्य विषयों पर चर्चा के लिए एक अलग बैठक बुलाने का फ़ैसला किया गया है.

इससे पहले बुधवार की रात केंद्रीय गृहमंत्री पी चिदंबरम के साथ सभी घटना स्थलों का दौरा किया.

इसके बाद वे एक के बाद उन सभी अस्पतालों में गए जहाँ घायलों का इलाज चल रहा है.

जैसा कि गृहमंत्री ने गुरुवार की सुबह चौहान के साथ एक संयुक्त पत्रवार्ता में बताया था कि घायलों को 13 विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है.

वैसे तो विस्फोट में 131 लोग घायल हुए थे लेकिन 26 को आरंभिक चिकित्सा के बाद छुट्टी दे दी गई थी.

इनमें से 82 की हालत स्थिर है और 23 लोग गंभीर रुप से घायल हैं जिनमें से कुछ की हालत नाज़ुक है.

मुख्यमंत्री ने हर घायल का इलाज सरकार की ओर से ही करवाने की घोषणा की है.

मुख्यमंत्री ने कहा है कि 26/11 के हमलों के बाद से महाराष्ट्र पुलिस का काफ़ी आधुनिकीकरण हुआ है लेकिन अभी और आधुनिकीकरण की ज़रुरत है.

संबंधित समाचार