मनमोहन, सोनिया जाएंगे मुंबई

इमेज कॉपीरइट AP

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) अध्यक्ष सोनिया गांधी मुंबई का दौरा कर खुद स्थिति का ज़ायज़ा लेंगे.

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक़ दोनों नेता गुरुवार को ही मुंबई के लिए रवाना होंगे.

साथ ही प्रधानमंत्री की ओर से 13 जुलाई के बम धमाकों में मारे गए लोगों के परिवारजनों को दो-दो लाख रुपए सहायता राशि दी जाएगी.

प्रत्येक घायल व्यक्ति को एक लाख रुपए सहायता राशि देने की घोषणा भी की गई है.

धमाकों के बाद बुधवार शाम प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और यूपीए अध्यश्क्ष सोनिया गांधी ने कठोर शब्दों में निंदा करते हुए इसके लिए ज़िम्मेदार लोगों के ख़िलाफ कड़ी कार्रावाई करने का भरोसा दिलाया था.

कई नेता मुंबई में

मुंबई में दिन भर अलग-अलग पार्टियों के नेता अस्पतालों में घायलों का हाल जानने के लिए पहुंचे.

सुबह-सुबह गृह मंत्री पी चिदंबरम ने मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चह्वाण के साथ संयुक्त पत्रकार-वार्ता की.

मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चह्वाण ने सभी मृतकों के परिजनों को पाँच-पाँच लाख रुपए मुआवज़ा और हर घायल को 50 हज़ार रुपए मुआवज़ा देने की घोषणा की.

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी ने भी मुंबई जाकर धमाकों के बाद की स्थिति का जायज़ा लिया.

कांग्रेस सरकार को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि इस हमले को ख़ुफ़िया विभाग की विफलता नहीं बल्कि सरकार की नीतियों की विफलता के रूप में देखा जाना चाहिए.

शिव सेना के नेता उद्धव ठाकरे ने भी अस्पतालों का दौरा किया और घायल लोगों से मिले.

कांग्रेस सरकार को चरमपंथ के ख़िलाफ विफल बताते हुए ठाकरे ने कहा कि सरकार को मुंबई में रहनेवालों को सलाम करने के अलावा उनकी जान बचाने का इंतज़ाम भी करना चाहिए.

संबंधित समाचार