विलासराव देशमुख बने एमसीए के नए अध्यक्ष

विलासराव देशमुख (फ़ाईल फ़ोटो)
Image caption देशमुख की जीत से साबित हो गया कि मुंबई क्रिकेट पर राजनेताओं का क़ब्ज़ा बरक़रार है.

केंद्रीय मंत्री विलासराव देशमुख मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन के नए अध्यक्ष चुन लिए गए हैं.

आईसीसी अध्यक्ष शरद पवार के ख़ेमे वाले देशमुख ने भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान दिलीप वेंगसरकर को हराकर एमसीए के अध्यक्ष की कुर्सी हासिल की है.

शुक्रवार को हुए चुनाव में देशमुख ने दिलीप वेंगसरकर को 45 मतों से हराया.

देशमुख को 181 मत मिले जबकि वेंगसरकर सिर्फ़ 136 वोट ही पा सके.

देशमुख और वेंगसरकर दोनों ही शरद पवार की अध्यक्षता वाली पूर्व समिति में उपाध्यक्ष रह चुके हैं.

केंद्रीय मंत्री और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री शरद पवार लगभग एक दशक से एमसीए के अध्यक्ष पद पर बने हुए थे लेकिन एक आरटीआई के कारण पवार को इस चुनाव से बाहर कर दिया गया था.

वेंगसरकर की हार से ये बात एक दफ़ा फिर साबित हो गई है कि मुंबई की क्रिकेट पर खिलाड़ियों के बजाए राजनेताओं और नौकरशाहों का दबदबा बना हुआ है.

पवार ख़ेमे के ही अन्य सदस्य प्रो. रत्नाकर शेट्टी उपाध्यक्ष और रवि सामंत ट्रे़ज़रार चुन लिए गए हैं.

वहीं डीवाई पाटिल स्पोर्ट्स एकेडमी के अध्यक्ष विजय पाटिल को भी बतौर उपाध्यक्ष चुना गया है.

पवार खेमे के ही दो अन्य सदस्य डॉ. पीवी शेट्टी और नितिन दलाल भी विजेता बनकर उभरे हैं.दोनों नए संयुक्त सचिव होंगे.

1930-31 में एमसीए की स्थापना दिवस के बाद से राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देशमुख एमसीए के 13वें अध्यक्ष होंगे.

उनसे पहले मनोहर जोशी (1992-2001) और पवार (2001-2011) भी एमसीए के अध्यक्ष रह चुके हैं.

संबंधित समाचार