भारत-पाक वार्ता पर एक नज़र

वाजपेयी-मुशर्रफ़ आगरा(फ़ाईल फ़ोटो) इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption वाजपेयी ने जनरल मुशर्रफ़ को आगरा शिख़र सम्मेलन की दावत देकर दोनों देशों के संबंधों को सुधारने के लिए साहसी क़दम उठाया.

पाकिस्तान की नई विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार 26 जुलाई यानि मंगलवार से भारत का दौरा कर रहीं हैं. इसी मौक़े पर भारत-पाकिस्तान वार्ता पर एक नज़र कि कब क्या हुआ.

27 जुलाई 2011- पाकिस्तानी विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार की भारतीय विदेश मंत्री एस एम कृष्णा से नई दिल्ली में बातचीत.

26 जुलाई 2011-पाकिस्तानी विदेश सचिव सलमान बशीर की भारतीय विदेश सचिव निरूपमा राव से नई दिल्ली में मुलाक़ात.

27 जून 2011- पाकिस्तान के रक्षा मंत्री चौधरी अहमद मुख़्तार ने बीबीसी से एक ख़ास बातचीत में कहा कि भारत की सेना पिछले कुछ वर्षों में जितनी मज़बूत हुई है पाकिस्तानी सेना उनका मुक़ाबला नहीं कर सकती.

23 जून 2011- भारतीय विदेश सचिव निरूपमा राव ने इस्लामाबाद को दौरा किया और अपने समकक्ष सलमान बशीर से मुलाक़ात की.

03 जुलाई 2011-भारतीय विदेश सचिव निरूपमा राव ने एक भारतीय टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि चरमपंथ के प्रति पाकिस्तान का रवैया बदला है.

मई 2011- भारत के गृह मंत्री पी चिदंबरम ने इस्लामाबाद कौ दौरा किया और दिल्ली में दोनों देशो के रक्षा सचिवों के बीच सियाचिन मुद्दे पर चर्चा हुई.

अप्रैल 2011- दोनों देशों के वाणिज्य सचिवों के बीच इस्लामाबाद में बातचीत.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption थिम्पू में भारत के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री गिलानी से बातचीत कर दोनों देशों के बीच शांति वार्ता शुरू करने का फ़ैसला किया.

सभी मुद्दों पर बातचीत

फ़रवरी 2011-भारतीय विदेश सचिव निरुपमा राव ने पाकिस्तान के विदेश सचिव सलमान बशीर से थिम्पू में मुलाक़ात की और दोनों देशों ने सभी आठ मुद्दों पर बातचीत शुरू करने का फ़ैसला किया. लेकिन इसे विधिवत रूप से समग्र वार्ता का नाम नहीं दिया गया.

28 अप्रैल 2010- भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी से भूटान की राजधानी थिम्पू में हुए सार्क सम्मेलन के दौरान द्विपक्षीय बातचीत. और अपने-अपने राजनयिकों को निर्देश दिया की वे आपस में बातचीत करें.

फ़रवरी 2010-भारत ने पाकिस्तान को एक बार फिर बातचीत का न्यौता दिया.

जुलाई 2009-भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी से मिस्र के शर्म -अल-शेख़ में गुट निरपेक्ष देशों की सम्मेलन के दौरान मुलाक़ात की और दोनों देशों ने ' 'आतंकवाद' के ख़िलाफ़ मिलकर लड़ने पर सहमति जताई थी.

जून 2009- भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पाकिस्तानी राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी से रूस में हुए शंघाई कोऑपरेशन ऑरगनाइज़ेशन(एससीओ) की बैठक के दौरान मुलाक़ात की.

फ़रवरी 2009-पाकिस्तान ने मुंबई हमलों की जांच शुरू की और पहली बार इस बात को स्वीकार किया कि मुंबई पर हुए हमले की साज़िश पाकिस्तान में रची गई थी. भारत ने पाकिस्तान के इस क़दम का स्वागत किया.

समग्र वार्ता पर विराम

26 नवंबर 2008- मुबंई में चरमपंथी हमला, 166 लोगों की मौत. भारत ने इसके लिए पाकिस्तान की धरती से सक्रिय चरमपंथी संगठनों को ज़िम्मेदार ठ हराया और भारत-पाकिस्तान समग्र वार्ता पर विराम लगा.

जुलाई 2008- अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल में भारतीय दूतावास पर चरमपंथी हमला. भारत ने इसके लिए पाकिस्तानी ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई को ज़िम्मेदार ठहराया.

Image caption थिम्पू में दोनों देशों के विदेश सचिवों की बैठक के बाद सभी मुद्दों पर बातचीत शूरू करने का फ़ैसला किया गया.

फ़रवरी 2005-भारत प्रशासित कश्मीर और पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर के बीच बस सेवा की शुरूआत.

सितंबर 2004-दोनों देशों के विदेश मंत्रियों की नई दिल्ली में बैठक. बातचीत के बाद दोनों मंत्रियों ने कहा कि बातचीत बहुत अच्छी रही.

फ़रवरी 2004- भारत-पाकिस्तान के बीच समग्र वार्ता की शुरूआत.

जनवरी 2004- पाकिस्तानी राष्ट्रपति मुशर्रफ़ की भारतीय प्रधानमंत्री वाजपेयी से इस्लामाबाद में मुलाक़ात.

दिसंबर 2001- भारत के संसद पर चरमपंथी हमला. भारत ने इसके लिए पाकिस्तान की धरती से सक्रिय चरमपंथी संगठनों को ज़िम्मेदार ठहराया और दोनों देशों ने सीमा पर लगभग दस लाख सेना तैनात कर दिया.

जुलाई 2001-पाकिस्तानी राष्ट्रपति जनरल परवेज़ मुशर्रफ़ की आगरा में भारतीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से बातचीत.लेकिन बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकला.

फ़रवरी 1999- भारत के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की बहुचर्चित लाहौर बस यात्रा और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ से मुलाक़ात.

संबंधित समाचार