टीम अन्ना का व्यापक समर्थन का दावा

अन्ना हज़ारे इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption अन्ना हज़ारे के दल का कहना है कि उनके जन लोकपाल को व्यापक समर्थन मिल रहा है

सरकार के लोकपाल विधेयक के मुक़ाबले जन लोकपाल विधेयक की पैरवी कर रहे अन्ना हज़ारे के दल का दावा है कि ख़ुद मानव संसाधन विकास मंत्री कपिल सिब्बल के चुनाव क्षेत्र में 85 प्रतिशत से अधिक लोग जन लोकपाल के साथ हैं.

दिल्ली में एक संवाददाता सम्मेलन के ज़रिए अन्ना हज़ारे की टीम ने ये दावा किया.

उन्होंने बताया कि कपिल सिब्बल के चुनाव क्षेत्र चाँदनी चौक में जनमत संग्रह के लिए चार लाख फ़ॉर्म बाँटे गए थे. इसमें आठ सवाल थे जो कि लोकपाल मसले के मूल में हैं.

कुल 86 हज़ार फ़ॉर्म भरकर लोगों ने लौटाए जिनमें से 72 हज़ार फ़ॉर्म के नतीजे इकट्ठे किए गए हैं. टीम अन्ना के अनुसार बाक़ी 14 हज़ार फ़ॉर्म बारिश में गीले हो गए हैं इसलिए उन्हें एक-एक कर गिना जाएगा.

अन्ना हज़ारे के अलावा पूर्व पुलिस अधिकारी किरण बेदी और सामाजिक कार्यकर्ता अरविंद केजरीवाल ने बताया कि 85 प्रतिशत लोग इस हक़ में हैं कि अगर नागरिकों के चार्टर का उल्लंघन हुआ तो दोषी अधिकारियों पर जुर्माना लगाया जाना चाहिए और वो पैसा नागरिकों में हर्ज़ाने के तौर पर बाँट दिया जाए.

अन्य जगहों पर भी समर्थन

दावे के मुताबिक़ 89 प्रतिशत लोग सभी सरकारी अधिकारियों को लोकपाल के अधिकार क्षेत्र में लाने के पक्ष में हैं. कुल 88 प्रतिशत लोग तो ये भी चाहते हैं कि संसद में सभी सांसदों का व्यवहार भी निष्पक्ष लोकपाल के जाँच के दायरे में होना चाहिए न कि सरकार की ओर से प्रस्तावित सांसदों की किसी समिति के दायरे में.

प्रधानमंत्री को लोकपाल के दायरे में लाने की माँग का 82 प्रतिशत लोग समर्थन करते हैं जबकि छह प्रतिशत लोग सरकार की माँग के साथ हैं कि प्रधानमंत्री को इसके दायरे से बाहर ही रखा जाए.

अन्ना हज़ारे की टीम का कहना है कि वैसे ये नतीजे सिर्फ़ कपिल सिब्बल के ही चुनाव क्षेत्र के नहीं हैं बल्कि देश के ज़्यादातर हिस्सों से ऐसे ही नतीजे मिले हैं. महाराष्ट्र के अमरावती में 98 प्रतिशत लोग जनलोकपाल के साथ हैं तो नागपुर में 81 प्रतिशत लोग. वहीं वर्धा में 95 प्रतिशत लोगों ने इसका समर्थन किया जबकि मुंबई में भी इसे इतना ही समर्थन मिला.

इन नतीजों के बाद अन्ना हज़ारे की टीम ने सवाल उठाया है कि क्या लोकपाल विधेयक का सरकारी संस्करण वास्तव में लोगों की भावनाओं का प्रतिनिधित्व करता है.

संबंधित समाचार