संसद में नहीं जा पाएँगे कलमाडी

सुरेश कलमाडी इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption सुरेश कलमाडी इस समय तिहाड़ जेल में हैं

दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों की आयोजन समिति के प्रमुख रहे सुरेश कलमाडी को संसद के मॉनसून सत्र में शामिल होने की अनुमति नहीं मिली है.

शुक्रवार को दिल्ली हाई कोर्ट ने सुरेश कलमाडी की याचिका रद्द करते हुए उन्हें एक लाख रुपए अदालती कार्यवाही के ख़र्च के रूप में देने को कहा है.

इतनी ही राशि प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा कराने को कहा गया है.

राष्ट्रमंडल खेलों के आयोजन में अनिमितता के आरोपों में सुरेश कलमाडी इस समय तिहाड़ जेल में बंद हैं.

याचिका

उन्होंने अपनी याचिका में संसद के मॉनसून सत्र में शामिल होने के लिए अनुमति दिए जाने का अनुरोध किया था.

जस्टिस राजीव सहाय एंडलॉ ने अपने फ़ैसले में कहा, "याचिकाकर्ता को संसद में जाने की अनुमति देना उसे क़ैद से राहत देना है, भले ही वो न्यायिक हिरासत में हो. मैं याचिकाकर्ता के पक्ष में फ़ैसला देने की कोई वजह नहीं देखता, ख़ासकर ऐसी स्थिति में जबकि जेल में बंद उनके कई सहयोगियों को ये राहत नहीं मिल रही."

सीबीआई ने भी कलमाडी की याचिका का विरोध किया था. सीबीआई का कहना था कि कलमाडी अप्रत्यक्ष रूप से ज़मानत लेने की कोशिश कर रहे हैं, क्योंकि अदालत से उन्हें ज़मानत नहीं मिल पा रही है.

सुरेश कलमाडी कांग्रेस के सांसद हैं. इस साल अप्रैल में उन्हें राष्ट्रमंडल खेलों में अनियमितता के आरोपों में सीबीआई ने गिरफ़्तार किया था.

संबंधित समाचार