शुक्रवार को तिहाड़ से रामलीला मैदान जाएँगे अन्ना

अन्ना समर्थक इमेज कॉपीरइट AP

भ्रष्टाचार के मुद्दे पर पूरे देश को आंदोलित करने वाले गांधीवादी नेता अन्ना हज़ारे के एक सहयोगी ने कहा है कि वे शुक्रवार को तिहाड़ जेल से सीधे रामलीला मैदान जाएँगे.

कहा जा रहा है कि वे एक जुलूस के साथ रामलीला मैदान जाएँगे.

अन्ना हज़ारे गत 16 अगस्त को गिरफ़्तार कर तिहाड़ ले जाए गए थे जहाँ वे अनशन जारी रखे हुए हैं.

उधर अन्ना हज़ारे के दो सहयोगियों किरण बेदी और स्वामी अग्निवेश ने रामलीला मैदान का दौरा किया है.

इसके बाद किरण बेदी ने ट्विटर पर भेजे गए अपने संदेश में कहा है कि वहाँ दिल्ली सरकार की विभिन्न एजेंसियाँ काम कर रही हैं और उम्मीद है कि गुरुवार की शाम तक रामलीला मैदान तैयार हो जाएगा.

उन्होंने भी कहा है कि अन्ना हज़ारे शुक्रवार की सुबह तिहाड़ जेल से अपने समर्थकों के साथ रामलीला मैदान पहुँचेंगे.

इस बीच दिल्ली में तिहाड़ जेल के सामने और कई अन्य स्थानों पर अन्ना समर्थकों का प्रदर्शन जारी है. इसके अलावा देश के विभिन्न स्थानों पर अन्ना के समर्थक शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे हैं.

सरकार झुकी

पहले दिल्ली पुलिस ने उन्हें 22 शर्तों के साथ दिल्ली जयप्रकाश नारायण पार्क में अनशन की जगह दी थी लेकिन इनमें से छह शर्तें अन्ना हज़ारे ने नामंज़ूर कर दी थीं.

इसके बाद दिल्ली पुलिस ने वह अनुमति वापस ले ली थी और जयप्रकाश नारायण पार्क में धारा 144 लागू कर दी गई थी.

इमेज कॉपीरइट Anna Hazare Publicity
Image caption तिहाड़ में भी अन्ना हज़ारे का अनशन जारी है

अपनी पूर्व घोषणा के अनुसार 16 अगस्त को पार्क की ओर जाते अन्ना हज़ारे और अरविंद केजरीवाल सहित उनके सहयोगियों को पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया गया था. किरण बेदी और शांति भूषण सहित क़रीब 1400 लोगों को हिरासत में लिया गया था.

इसके बाद देश भर में अन्ना के समर्थकों के प्रदर्शन किए हैं और अन्ना की गिरफ़्तारी की देशव्यापी निंदा की गई है.

दिल्ली में तिहाड़ जेल के सामने अन्ना के समर्थक लगातार जुटे हुए हैं और लगातार दो दिनों से इंडिया गेट में भारी संख्या में लोग जुट रहे हैं.

संसद में भी सभी विपक्षी दलों ने दिल्ली पुलिस की कार्रवाई की निंदा की है और कहा है कि ये राजनीतिक मामला था और सरकार को इस मामले में हस्तक्षेप करना चाहिए था.

चौतरफ़ा दबाव के बाद केंद्र सरकार कुछ झुकी है और दिल्ली पुलिस ने अन्ना हज़ारे की टीम को दिल्ली का रामलीला मैदान अनशन के लिए देने के लिए तैयार हो गई है.

रामलीला मैदान केंद्रीय दिल्ली में स्थित है और यहाँ पचास हज़ार से भी अधिक लोगों के एकत्रित होने की जगह है.

बताया गया है कि वहाँ अन्ना हज़ारे को 15 दिनों तक अनशन करने की अनुमति दे दी गई है.

केंद्रीय गृह सचिव आरके सिंह का कहना है कि अनशन की जगह, शर्तें और अवधि का फ़ैसला अन्ना हज़ारे की टीम और दिल्ली पुलिस ने मिलकर किया है.

संबंधित समाचार