अन्ना का आंदोलन, संसदीय बहस: लाइव

बीबीसी हिंदी की विशेष लाइव कमेंटरी. बीबीसी हिंदी की विशेष लाइव कमेंटरी.
यह अपने आप अपडेट होता रहेगा.

ताज़ा पेज देखें

मनमोहन सिंह- संसद ने अपनी बात रख दी है,  संसद की इच्छा जनता की इच्छा है.

रामलीला मैदान में जश्न का आलम,  लोग नाच रहे हैं, झूम रहे हैं.

सलमान ख़ुर्शीद- मैं अन्ना हज़ारे को बधाई देता हूँ.

संसद ने अन्ना की मांगों को स्थायी समिति के पास भेजने पर सहमति जताई.

टाइम्स नॉव से बातचीत में मीरा कुमार ने कहा कि मेज़ थपथपाने को भी ध्वनिमत माना जा सकता है.

शांति भूषण- मैं ख़ुश हूँ कि लोकसभा ने इतनी अच्छी तरह अपनी प्रतिक्रिया दी.

2027 IST- राज्यसभा में भी लोकसभा की तरह मेज़ थपथपाकर अन्ना की मांगों से सहमति जताई गई.

2025 IST- मेधा पाटकर-  हमारा आंदोलन जारी रहेगा. अन्ना योजना के बारे में बाद में बताएँगे.

प्रणब मुखर्जी ने लोकसभा अध्यक्ष से सदन की भावना को स्थायी समिति के पास भेजने का अनुरोध किया.

लोकसभा सैद्धांतिक रूप से अन्ना की मांगों से सहमत. अब इसे स्थायी समिति के पास भेजा जाएगा.

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक़ सरकार ने कहा है कि अन्ना की मांगों पर सर्वसम्मति थी और इसमें मतदान की आवश्यकता नहीं थी.

ट्विटर पर किरण बेदी- सभी व्यक्तियों का आभार.

मेधा पाटकर- जो हुआ, वो वैसा नहीं हुआ, जो सलमान ख़ुर्शीद के साथ सहमति थी.

2004 IST- अब प्रणब मुखर्जी राज्यसभा में भाषण दे रहे हैं.

लोकसभा ने सर्वसम्मति से अन्ना की मांग को स्वीकार किया.

लोकसभा की कार्यवाही मतदान के बिना स्थगित.

1952 IST-  प्रणब मुखर्जी ने जनलोकपाल के तीन अहम मुद्दों को शामिल करने की बात कही.

1950 IST- बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमारने अन्ना से अनशन तोड़ने की अपील की.

1946 IST- प्रणब मुखर्जी- भीड़तंत्र और लोकतंत्र के बीच अंतर को समझना होगा.

1945 IST- प्रणब मुखर्जी- सिर्फ़ एक क़ानून से भ्रष्टाचार नहीं मिटेगा. इसके लिए व्यवस्था बदलनी होगी.

1943 IST- प्रणब मुखर्जी-   जनलोकपाल विधेयक के छह मुद्दे पर मतभेद थे.

1939 IST- किरण बेदी- मैं दिल्ली पुलिस का आभार जताती हूँ. उन्होंने अन्ना आंदोलन के प्रति सम्मान जताया.

1937 IST-  प्रणब मुखर्जी- लोकसभा में ये बहस परंपरा से अलग तो है लेकिन ख़ास परिस्थिति में है.

1935 IST-  प्रणब मुखर्जी-  अन्ना हज़ारे ने जो मुद्दे उठाए हैं, उन्हें सभी महत्वपूर्ण मानते हैं.

1934 IST-  प्रणब मुखर्जी- इस बहस की महत्ता इसलिए भी है क्योंकि इससे कोई व्यक्ति अहम फ़ैसला कर सकता है.

लोकसभा में प्रणब मुखर्जी- समय की कमी के कारण सबको मौक़ा नहीं मिल पाया.

1931 IST- अब लोकसभा में प्रणब मुखर्जी अपना भाषण दे रहे हैं.

1930 IST- किरण बेदी- जिन लोगों को तकलीफ़ और पीड़ा हुई, उनके खेद व्यक्त करती हूँ.

1929 IST- ट्विटर पर किरण बेदी- टीम अन्ना आंदोलन से जुड़े सभी लोगों का आभार व्यक्त करती है.

1924 IST- लोकसभा में ज्योतिरादित्य सिंधिया- पहली बार सिविल सोसाइटी को कांग्रेस ने ही महत्ता दी थी.

1923 IST- रामलीला मैदान में लोगों की भारी भीड़.

1920 IST- ट्विटर पर किरण बेदी-    अन्ना हज़ारे ने कभी भी अपना अनशन सूर्यास्त के बाद नहीं तोड़ा है. इस बार भी ये उनका फ़ैसला है.

1918 IST- राज्यसभा में रामविलास पासवान- अन्ना का आंदोलन दलित विरोधी,  पिछड़ा वर्ग विरोधी और अनुसूचित जाति-जनजाति विरोधी है.

1913 IST-   डॉक्टर त्रेहन- अनशन तोड़ने के बाद अन्ना को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ेगा.

1907 IST-    कुछ मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक़ अन्ना हज़ारे कल अनशन तोड़ेगें. लेकिन अभी इसकी आधिकारिक घोषणा नहीं.

1856 IST-   रामलीला मैदान में आमिर ख़ान रोज़ा खोल रहे हैं.

डॉक्टर त्रेहन-  अन्ना हज़ारे का वज़न 7.5 किलोग्राम कम हुआ है.

डॉक्टर नरेश त्रेहन-   अन्ना हज़ारे का वज़न कम हुआ है और वे कमज़ोर हुए हैं.

1850 IST-   रविशंकर प्रसाद-   अन्ना हज़ारे ने देश को दिशा दिखाई है. लेकिन देश संसद से चलेगा.

1849 IST-    राज्यसभा में रविशंकर प्रसाद- मीडिया अपने अंदर भी झाँके और विचार करे. पेड न्यूज़ गंभीर मसला.

1848 IST- मेधा पाटकर-   अन्ना का अनशन अभी जारी है. हमने प्रस्ताव के शब्द नहीं देखे हैं.

1846 IST-   अन्ना हज़ारे ने रामलीला मैदान में एक बार फिर नारा लगाया.  लेकिन कुछ और नहीं कहा.

वरुण गांधी-   सभी पार्टियों ने लोगों के प्रति सम्मान दिखाया है.

लोकसभा में वरुण गांधी-   अन्ना के आंदोलन ने हम सब को बदल दिया है.

आनंद शर्मा-   कांग्रेस के पास मनमोहन सिंह भी हैं और राहुल गांधी भी हैं.

लोकसभा में आनंद शर्मा-   प्रधानमंत्री पर सवाल उठाना उचित नहीं.

1816 IST-  किरण बेदी-   अन्ना हज़ारे प्रस्ताव देखने के बाद कोई फ़ैसला करेंगे.

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक़ सलमान ख़ुर्शीद  प्रस्ताव को लेकर टीम अन्ना के संपर्क में.

1800 IST-  अरुण जेटली ने उम्मीद जताई कि आज ही कार्यवाही के दौरान सकारात्मक प्रगति होगी.

अरुण जेटली-  भाजपा के ख़िलाफ़ अफ़वाहें फैलाई गई.

लोकसभा में लालू यादव- न्यायपालिका पर अंकुश लगाने के सख़्त खिलाफ़ हूँ.

लालू यादव- अन्ना जी के सलाहकार उनके जीवन पर ख़तरा पैदा कर रहा है.

1740 IST- लालू यादव ने सुझाव दिया कि संसद की सर्वोच्चता बहाल रखी जाए.

लालू यादव ने जनलोकपाल में ग़ैर सरकारी संगठनों को शामिल न करने पर सवाल उठाए.

1732 IST- विलासराव देशमुख-   अन्ना को प्रस्ताव दिखाने जा रहे हैं.

लालू यादव- अन्ना हज़ारे को सही सूचना नहीं दी जा रही है.

लालू यादव ने टीम अन्ना के कई सदस्यों की टिप्पणी पर कड़ी आपत्ति जताई.

1724 IST- अरविंद केजरीवाल- ध्वनिमत से प्रस्ताव पास किए जाने को लेकर ख़ुश हैं.

भ्रष्टाचार के मुद्दे पर अन्ना हज़ारे ने जो सवाल उठाए हैं, उस पर हम उनके साथ हैं. लेकिन संसद सर्वोच्च है.

लालू यादव- भ्रष्टाचार के मामले पर सदन ने शुरू से ही कड़ा रुख़ अपनाया है.

लोकसभा में लालू यादव-  मुझे हैरत है कि आज भी वही बहस हो रही है, जो दो दिन पहले हुई है.

1709 IST-मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक़ प्रस्ताव पर ध्वनिमत कराया जाएगा.

किरण बेदी-   संसद को अन्ना हज़ारे के प्रस्तावों पर मतदान करना चाहिए.

1700 IST-   गुरुदास दासगुप्ता- सदन को ये संदेश देना चाहिए कि भ्रष्टाचार को लेकर वो कितना गंभीर है.

गुरुदास दासगुप्ता-   सरकार कई आवाज़ों में बात कर रही है और शक्ति केंद्र अलग-अलग है.

लोकसभा में गुरुदास दासगुप्ता-   सरकार को ये सोचना चाहिए कि ये स्थिति क्यों आई है.

किरण बेदी   का कहना है कि सरकार के रुख़ में आए एकाएक बदलाव से चिंता बढ़ी है.

किरण बेदी-    अन्ना हज़ारे ताज़ा गतिविधि से काफ़ी निराश हैं और हमलोग चिंतित हैं.

1642 IST-  माना जा रहा है कि सरकार एक बार फिर टीम अन्ना से संपर्क में है.

बैठक में प्रणब मुखर्जी के साथ-साथ सरकार के कई मंत्री भी शामिल हैं.

1628 IST- मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक़ प्रधानमंत्री इस समय आडवाणी, सुषमा स्वराज और अरुण जेटली से मुलाक़ात कर रहे हैं.

1622 IST-   डॉक्टर नरेश त्रेहन अन्ना हज़ारे की जाँच के लिए रामलीला मैदान में.

ट्विटर पर सुषमा-   मैं ये स्पष्ट करना चाहती हूँ कि सरकार अगर प्रस्ताव या मोशन लाए तो भाजपा पक्ष में मतदान करेगी.

सुषमा स्वराज- ये बिल्कुल ग़लत है.

ट्विटर पर सुषमा स्वराज-   मैंने अरविंद केजरीवाल को टीवी पर सुना है कि सरकार ने उन्हें मतदान पर भाजपा की ना के बारे में कहा है.

राजकुमार हिरानी ने कहा कि अन्ना की देश को ज़रूरत है. इसलिए उन्हें अपना अनशन तोड़ देना चाहिए.

रामलीला मैदान पर आमिर ख़ान के साथ उनकी फ़िल्म थ्री इडियट्स के निर्देशक राजकुमार हिरानी भी मौजूद हैं.

आउटलुक- अन्ना हज़ारे आई-पैड  के माध्यम से संसद की कार्यवाही पर नज़र रखे हुए हैं.

आमिर ख़ान-   मैं अपने सांसद से मिलकर जनलोकपाल का समर्थन करने को कहूँगा.

1606 IST-   आमिर ख़ान   ने अन्ना हज़ारे से अनशन तोड़ने की अपील की.

आमिर ख़ान-  अन्ना जी के स्वास्थ्य को लेकर काफ़ी चिंता है.

पीटीआई-   महाराष्ट्र के सांगली ज़िले में अन्ना के समर्थन में एक महिला ने आत्महत्या की.

पीटीआई- उड़ीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने अन्ना से अनशन तोड़ने की अपील की है.

1602 IST- आमिर ख़ान- मैं जनलोकपाल बिल का पूरा समर्थन करता हूँ. अन्ना ने हमें जागृत किया है.

आमिर ख़ान- मैं यहाँ अन्ना जी को गले लगाने आया हूँ.

अरविंद केजरीवाल रामलीला मैदान पर लोगों को संबोधित कर रहे हैं.

1600 IST- अरविंद केजरीवाल- सलमान ख़ुर्शीद कह रहे हैं कि भाजपा भी मतदान नहीं चाहती.

आउटलुक का कहना है कि भाजपा नेता इससे नाराज़ है कि सरकार ने टीम अन्ना से कहा है कि भाजपा मतदान नहीं चाहती.

आउटलुक ट्विट- आडवाणी, सुषमा स्वराज और जेटली ने प्रणब मुखर्जी से मुलाक़ात की है.

1555 IST- मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक़ सरकार ने टीम अन्ना की मांगों पर एक मसौदा राजनीतिक दलों को दिया है.

सलमान ख़ुर्शीद- टीम अन्ना बार-बार गोल पोस्ट बदल रही है.

1548 IST- टीम अन्ना से मुलाक़ात के बाद सलमान ख़ुर्शीद इस समय प्रणब मुखर्जी और कपिल सिब्बल से मिल रहे हैं.

1547 IST- टीम अन्ना- जब तक प्रस्ताव पारित नहीं होता, अन्ना अनशन नहीं तोड़ेंगे.

1542 IST-  हिंदी फ़िल्मों के चर्चित अभिनेता आमिर ख़ान  रामलीला मैदान पहुँचे. 

टीम अन्ना का कहना है कि बिना प्रस्ताव पास किए बहस का कोई उद्देश्य नहीं है.

1536 IST- टीम अन्ना प्रस्ताव की मांग पर अड़ी. सरकार पर आरोप लगाए.

शांति भूषण ने कहा कि सलमान ख़ुर्शीद प्रस्ताव के मसौदे पर राज़ी थे.

टीम अन्ना के शांति भूषण ने एक टीवी चैनल से बातचीत में सलमान ख़ुर्शीद को घेरा.

1530 IST- लोकसभा और राज्यसभा में प्रणब मुखर्जी के वक्तव्य पर बहस जारी, लेकिन गतिविधि संसद के बाहर.

अरविंद केजरीवाल-  सरकार ने चौथी बार अपना रुख़ बदला है.

1526 IST- टीम अन्ना के एक सदस्य अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि सरकार एक बार फिर अपने वादे से मुकर गई है.

1522 IST - रामलीला मैदान में किरण बेदी ने अन्ना का संदेश पढ़ा - 'जैसा हम चाहते थे वैसा अभी नहीं हुआ,  प्रार्थना करें.'

टीम अन्ना ने संसद में महज़ बहस और इसके बाद कोई प्रस्ताव या वोटिंग न होने पर आपत्ति जताई.

संसद में जनता दल (यू)  ने सवाल उठाया कि पिछड़े-कमज़ोर वर्ग को लोकपाल में प्रतिनिधित्व मिले.

संसद में भाजपा ने टीम अन्ना के उठाए तीन प्रमुख मुद्दों पर सहमति जताई है.  लालू ख़फ़ा हैं, बसपा ने कई आपत्तियाँ जताई हैं.

प्रशांत भूषण  ने कहा कि सरकार अब अन्ना के आग्रह का निरादर कर रही है. 

प्रशांत भूषण ने सलमान ख़ुर्शीद के घर पर राजनीतिक प्रतिनिधियों  से वार्ता  के बाद कहा  कि पूरे देश को जानने का हक़ है कि हर सांसद लोकपाल मुद्दे पर कहाँ खड़ा है.

प्रशांत भूषण ने कहा दुर्भाग्यपूर्ण होगा यदि संसदीय बहस के बाद प्रस्ताव और वोटिंग नहीं होते.  नियम 184  के तहत प्रस्ताव-वोटिंग हो. अन्ना ने प्रधानमंत्री को लिखा था कि तीन मुद्दों पर तो संसद राय व्यक्त करे. 

1515 IST- टीम अन्ना के प्रशांत भूषण ने कहा कि शनिवार रात आश्वासन मिला था कि तीन मुख्य मुद्दों पर संसदीय प्रस्ताव होगा और वोटिंग होगी लेकिन कहा  जा रहा है  कि ऐसा नहीं होगा.   

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के सीताराम येचुरी ने कहा पहली यूपीए सरकार में जब लोकपाल बिल का मसौदा तैयार हुआ तो प्रधानमंत्री को इसके दायरे में लाने पर सहमति बनी थी. 

बसपा ने जन लोकपाल मसौदे के कई प्रावधानों पर असहमति जताई है.  

बसपा के सतीष मिश्र ने कहा कि अन्ना के इस आंदोलन  और संसदीय बहस का फ़ायदा तभी होगा यदि व्यापक-विस्तृत बहस हो,  संसदीय प्रणाली का अनुसरण हो. 

बसपा ने टीम अन्ना के जनलोकपाल बिल पर कहा कि केवल इसलिए कि बहुत सारे लोग चाहते है तो सांसद इस पर मुहर लगाएँ,  ये सही नहीं है. 

बसपा के सतीष मिश्र का कहना है कि मसौदा स्पष्ट हो तो आप राज्यों को लोकायुक्त के विधेयकों की सिफ़ारिश करें. पहले लोकपाल बिल तो पारित करें.

राज्यसभा में बसपा ने कहा वो इस पक्ष में नहीं कि हर स्तर के नौकरशाह चाहे वो चपरासी हो,  उसे लोकपाल के दायरे में लाया जाए.  ये व्यावहारिक नहीं है. 

बसपा के सतीष मिश्र ने कहा सरकार, विपक्ष और नागरिक समाज की चर्चा के बाद  लोकपाल का अंतिम मसौदा क्यों नहीं आया?  

बसपा के मिश्र ने कहा कि यदि न्यायपालिका के मुद्दे पर जन लोकपाल टीम के प्रस्तावों को मान लिया जाए तो न्यायपालिका ही ठप हो जाएगी.

बसपा के सतीष मिश्र ने कहा  सरकारी नौकरियों को  छोड़ दें तो अन्य क्षेत्रों में कमज़ोर,  विशेष तौर पर अनुसूचित जाति के लोगों को नौकरियाँ, अधिकार नहीं मिल रहे हैं. 

राज्यसभा में बहुजन समाज पार्टी के सतीष मिश्र ने कहा लोकपाल जैसी संस्था में अनुसूचित जाति के लिए  आरक्षण हो.

भाजपा ने प्रधानमंत्री,  पूरी नौकरशाही, सीबीआई  को लोकपाल के दायरे में लाने पर सहमति जताई है.  भाजपा अन्ना की लगाई तीनों शर्तों पर उनसे सहमत हैं.

शरद यादव ने कहा कि क्या पिछड़े-कमज़ोर वर्ग का भी लोकपाल में कोई स्थान है? लेकिन उन्होंने अन्ना के तीनों प्रमुख मुद्दों का समर्थन किया.  

शरद यादव ने कहा नौजवानों को सड़कों पर लाए ये इस आंदोलन ने किया,  लेकिन सामाजिक बराबरी-बाबासाहिब अम्बेडकर का नारा रामलीला मैदान में नहीं उठा.

लोकसभा में जनता दल (यू) के शरद यादव  ने सवाल उठाया 40 साल में मार्टिन लूथर किंग का आंदोलन रंग लाया पर भारतीय समाज में रंग क्यों नहीं आता.

सुशीला सिंह के अनुसार दिल्ली के रामलीला मैदान में उत्सव का माहौल है  और  सोनू निगम के गानों पर लोग हाथ लहरा रहे हैं.

बीबीसी संवाददाता सुशीला सिंह के अनुसार लालू यादव के ख़िलाफ़ रामलीला मैदान में नारे लगे हैं.

दिल्ली के रामलीला मैदान में बीबीसी की सुशीला सिंह के अनुसार जैसे ही  सुषमा स्वराज के मुख्य मांगों के  समर्थन की घोषणा हुई,  मैदान  तालियों,  नारों से गूँजने लगा.

अन्ना हज़ारे ने शनिवार दोपहर को कहा जो चर्चा हो रही है वो जनता - भाइयों,  महिलाओं, बच्चों के चमत्कार के कारण हो रही है. 

अन्ना ने कहा  - 'आपने संसद में चर्चा कर रहे लोगों को बता दिया है कि जनसंसद सबसे बड़ी है.'

टीम अन्ना के केजरीवाल और मेधा पाटकर की राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक जल्द ही...

1345 IST- भाजपा ने प्रधानमंत्री,  पूरी नौकरशाही, सीबीआई  को लोकपाल के दायरे में लाने पर सहमति जताई है. 

टीम अन्ना के अरविंद केजरीवाल और मेधा पाटकर सरकारी प्रतिनिधिमंडल से जल्द ही मिलने वाले हैं.

कांग्रेस ने कहा क़ानून बनाने के मामले में संसद सर्वोच्च है.  लोकपाल को किस तरह से न्यायपालिका के कुछ अधिकार  दिए जा सकते हैं,  ये संविधान का उल्लंघन होगा.   

कांग्रेस के अश्विनी कुमार ने कहा प्रधानमंत्री के ख़िलाफ़ आरोपों की जाँच के लिए पर्याप्त क़ानून मौजूद हैं और मुझे नहीं लगता इस मामले में और क़ानून लाए जाने चाहिए.  

अश्विनी कुमार ने कहा क्या  अंतरराष्ट्रीय संधियों पर चर्चा के दौरान प्रधानमंत्री के सिर पर लोकपाल के अधिकार क्षेत्र में आरोपों की तलवार लटकी होनी चाहिए.  इस पर गंभीर चर्चा करें.

राज्यसभा में कांग्रेस के अश्विनी कुमार ने कहा राज्यों में काम कर रहे नौकरशाहों पर ये सदन क़ानून नहीं बना सकता.

भाजपा के अरुण जेटली ने राज्यसभा  में कहा कि शिकायतें सुनने की प्रणाली के साथ-साथ न्यायपालिका की जवाबदेही भी सुनिश्चित होनी चाहिए.

लोकसभा में भाजपा ने प्रधानमंत्री,  पूरी नौकरशाही, सीबीआई  को लोकपाल के दायरे में लाने पर सहमति जताई है. 

लोकसभा और राज्यसभा में लोकपाल और टीम अन्ना की शर्तों पर बहस हो रही है. 

लोकसभा में समाजवादी पार्टी के रेवती रमन सिंह ने कहा कि सबकी बात सुनकर सर्वसम्मति बननी चाहिए.

रेवती रमन सिंह ने कहा जन लोकपाल बिल में अच्छी बाते हैं.  

1303 IST- लोकसभा में भाजपा ने प्रधानमंत्री,  पूरी नौकरशाही, सीबीआई  को लोकपाल के दायरे में लाने पर सहमति जताई है. 

राज्यसभा में अरुण जेटली ने कहा जब प्रधानमंत्री आम क़ानून के दायरे में  है तो  इस विशेष क़ानून में प्रधानमंत्री को अलग रखना कैसे तर्कसंगत है.  

जेटली ने कहा कि दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र को ऐसा प्रयोग नहीं करना चाहिए.  

अरुण जेटली ने कहा कि क़ानून ऐसा बने जिससे संघीय ढांचे को नुक़सान न हो.  जहाँ केंद्र का अधिकार क्षेत्र हो वहाँ केंद्रीय कानून लागू हो और जहाँ राज्य क़ानून बना सकते हो  वो करें. 

राज्यसभा में प्रणब मुखर्जी ने कहा भाजपा स्पष्ट करे कि क्या लोकपाल पर  संसद को  और लोकायुक्त के बारे में हर राज्य को ही क़ानून बनाना चाहिए. 

अरुण जेटली ने कहा कि विकासशील व्यवस्थाओं में नागरिक समाज की भूमिका रहेगी. भारतीय संसद क़ानून बनाने के मामले में सर्वोच्च है.

भारतीय संसद में लोकपाल विधेयक पर बहस के दौरान  लोकसभा में भाजपा ने तीन मुख्य मुद्दों पर टीम अन्ना से सहमति जताई है.

भाजपा ने प्रधानमंत्री,  पूरी नौकरशाही, सीबीआई  को लोकपाल के दायरे में लाने पर सहमति जताई है. 

राज्यसभा में विपक्ष के नेता अरुण जेटली ने कहा जनांदोलन ने दिखाया है कि भ्रष्टाचार जीवन के हिस्से के तौर पर नहीं चल सकता.

लोकसभा में संदीप दीक्षित ने कहा पहले बात उन विषयों पर हो जिनसे अन्ना की तीन बातों पर मत ज़ाहिर करें ताकि उनका अनशन समाप्त हो.

कांग्रेस सांसद संदीप दीक्षित ने सुषमा स्वराज के भाषण को ऐतिहासिक दिन में साधारण भाषण बताया.

सुषमा- भाजपा  इस बहस के लोकपाल संबंधित तीनों मुख्य विषयों पर  अन्ना से सहमत है.

सुषमा- बड़े आदमी के भ्रष्टाचार से जनता गुस्सा है लेकिन छोटे अफ़सर से परेशान है.  पूरी नौकरशाही को लोकपाल के दायरे में लाने पर भी हम टीम अन्ना से सहमत हैं. 

1228 IST- लोकपाल के मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री प्रणब मुखर्जी ने बहस के मुद्दों पर बयान दिया है.  विपक्ष की  नेता सुषमा स्वराज अपने विचार रख रही हैं.  

सुषमा- जहाँ तक शिकायतें सुनने की प्रणाली का सवाल है,  राज्य में बहुत प्रभावी बिल बने हैं.  सिटिज़न चार्टर के अच्छे सुझाव हैं.

सुषमा- लोकपाल चुना कैसे जाए? यदि सरकारी प्रतिनिधि  बाहुलता में होंगे तो सरकारी लोकपाल बनेगा.  न सरकार की बाहुलता हो, न अनदेखी.

सुषमा- ये सदन सर्वोच्च है.  सदन में आचरण के मामले में सांसदों को विशेषाधिकार मिले रहने चाहिए.

सुषमा- हम चाहते हैं सीबीआई स्वायत्त संस्था बने और यदि ये लोकपाल के दायरे में आती है तो हम उससे सहमत हैं.

सुषमा- जैसे ही सदन में कोई वोट की स्थिति आ जाए,  सीबीआई कांग्रेस बचाओ इस्टीट्यूशन बन जाती है. 

सुषमा- सारा भष्ट्राचार विपक्ष में हो रहा है और सभी दूध के धुले वहाँ बैठे हैं. ताज़ा भयावह उदाहरण जगनमोहन रेड्डी का है जिनके पिता कांग्रेस के नेतृत्व के इतने नज़दीकी थे.

सुषमा- आज सीबीआई को स्वायत्त बनाने की बात है. सारे विपक्ष के नेता आडवाणी, यशवंत सिन्हा, लालू यादव, शरद यादव सीबीआई द्वारा झूठे मामलों में फँसाए जा चुके हैं.

1215 IST - भारतीय संसद लोकपाल मुद्दे पर बहस कर रही है.

केंद्रीय मंत्री प्रणब मुखर्जी ने बहस के मुद्दों पर बयान दिया है. विपक्ष की  नेता सुषमा स्वराज अपने विचार रख रही हैं.  

सुषमा- प्रधानमंत्री ख़ुद इस बारे में कह दें.  केवल दो अपवाद हैं - राष्ट्रीय सुरक्षा,  क़ानून  और जन व्यवस्था के मामलों को छोड़े देना चाहिए.

सुषमा-  आज प्रधानमंत्री लोकपाल के दायरे आना चाह रहे हैं, सही कह रहे हैं. लेकिन उनकी कोई सुन नहीं रहा है. 

उधर दिल्ली के रामलीला मैदान में अन्ना हज़ारे अपने समर्थकों को संबोधित कर रहे हैं.

सुषमा- राहुल गांधी ने प्रधानमत्रीं के बयान पर पानी फेरने का काम किया.  सरकार ने फिर आज बागडोर अपने हाथ में ली,  इसके लिए हम प्रधानमंत्री की प्रशंसा करती हूँ. 

सुषमा- राहुल कांग्रेस पार्टी का रुख़ बताने आए थे. सरकार रास्ते खोज रही थी कि कोई सांसद बहस का नोटिस दे और सरकार किसी बारे में प्रतिबद्ध न हो, केवल रस्म अदायगी कर दे.

राहुल गांधी के बयान पर टिप्पणी के बाद लोकसभा में कुछ हंगामा.

सुषमा- राहुल गांधी ने पाँच पन्नों का बयान पढ़ा 15 मिनट में...वो राष्ट्र के नाम संदेश दे रहे थे या शून्यकाल में मुद्दा उठा रहे थे..

सुषमा- अन्ना की टीम मुझे मिली और कुछ मुद्दों पर सहमति बनी.  

प्रणब मुखर्जी ने बहस के मुद्दों का उल्लेख किया है और इस समय विपक्षी नेता सुषमा स्वराज  लोकसभा में बयान दे रही हैं.  

भारतीय संसद में लोकपाल बिल और अन्ना हज़ारे के आंदोलन पर बहस चल रही है.

सुषमा- लोगों को तो भरभेट रोटी नहीं मिल रही, दूसरी ओर सरकार ऐसा बिल लाई जिसमें धार न थी. लोगों को सरकार की प्रतिबद्धता पर संदेह हुआ.

सुषमा- पिछले दो साल में इतनी बड़ी राशि के इतने बड़े-बड़े कांड सामने आए हैं इसीलिए ये जनांदोलन बना है.

सुषमा- अन्ना ने इस बिल को नीचे तक लोगों तक पहुँचाया है. इसीलिए लाखों लोग वंदे मातरम् और भष्टाचार हटाओं के नारे लगा रहे हैं.

सुषमा स्वराज- ये सदन इतिहास रचेगा और हिंदुस्तान को प्रभावी लोकपाल देने का काम करेगा. ये बिल जनांदोलन बन गया है.

सुषमा स्वराज- पहला लोकपाल विधेयक 1968 में आया और यह नवीं बार लोकपाल विधेयक आया है.  पिछले 43 विषयों से ये मामला लंबित है.

भाजपा नेता सुषमा स्वराज - जनता को दिखा दें कि बहस शांति से चले. भले ही उग्र तरीके से जवाब मिले लेकिन शांति रहे. 

लोकसभा स्पीकर मीरा कुमार ने कहा प्रारंभिक तौर पर सात घंटे और यदि बढ़ाने की ज़रूरत हुई तो और समय के लिए बहस होगी.

शरद यादव ने व्यापक बहस की मांग की है.  केंद्रीय मंत्री पवन बंसल ने लंच ब्रेक न लेकर,  सात घंटे  तक बहस करने की बात रखी.    

संसद में कुछ  शोरशराबा हुआ है. लालू यादव का मानना है कि संसदीय परंपराओं का अल्लंघन हो रहा है.

लालू यादव- जो मामला संसद की स्टैंडिंग कमेटी में है उस पर सार्वजनिक बहस क्यों.  जिसने कहना है वह संसदीय समिति के समक्ष कहे.

आडवाणी- विधेयक बनेगा लेकिन चर्चा सार्थक होगी यदि आप सभी की राय के बाद अन्ना अनशन ख़त्म करें.

आडवाणी- मुझे प्रसन्नता है  जो बयान सदन के नेता ने रखा है. चर्चा जारी रहे पर आज शाम तक सदन की राय अन्ना जी तक पहुँचे. 

प्रणब- पूरा देश और बाहर भी नज़रें हम पर हैं.  देश आज चौराहे पर है. आएँ संवैधानिक तरीके से, संसदीय संप्रभुता कायम रखते हुए बहस करें.

प्रणब-  जो मुद्दे हमारे सामने हैं उनमें है कि क्या सभी स्तरों पर नौकरशाही को लोकपाल के दायरे में लाया जाए.  सभी राज्यों में लोकायुक्त हों और शिकायतों को निपटारे के लिए अलग प्रणाली

प्रणब- हमें ध्यान रखना होगा कि जो भी हम करें वो संवैधानिक परंपराओं के मुताबिक हो

प्रणब- इस बहस के अंत तक हम संभवत: सर्वसम्मति बना पाएँ.

1120 IST - प्रणब- 25 अगस्त को प्रधानमंत्री ने दोबारा मज़बूत लोकपाल बिल का वादा दोहराया. 

प्रणब मुखर्जी संसद में बयान दे रहे हैं.

उनके अनुसार टीम अन्ना ने कहा यदि सरकार जनलोकपाल बिल चार दिन में न्याय मंत्रालय से पारित कराकर इसी संसद सत्र में पारित कराए तो हम अन्ना को अनशन ख़त्म करने के लिए मना सकते हैं

प्रणब- सरकार तैयार थी  कि सभी प्रस्तावों के साथ स्पीकर लोकपाल के प्रस्तावित बिल के मसौदे को संसद की स्टैंडिंग समिति को भेजा जाए.

प्रणब-  अन्ना हज़ारे की सेहत के बारे में चिंतित प्रधानमंत्री ने फिर उन्हें लिखकर अनशन ख़त्म करने की अपील की.

प्रणब- इससे भी पहले कि बिल संसद में आता, हज़ारे और टीम ने मसौदे की कापियाँ जलाई और अनशन की बात की.

प्रणब- फ़ैसला ये हुआ कि संविधान की संप्रभुता कायम रहनी चाहिए. क़ानून संसद बनाएँगे.  क़ानून के मामले में कुछ मनोनीत सदस्यों की अंतिम राय नहीं हो सकती. जो प्रणाली स्थापित है, उसके माध्यम से ही काम होना चाहिए, सरकार ने यही किया.

प्रणब- भाजपा ने लिखा  संसदीय प्रणाली में सांसद सुझाव नहीं फ़ैसला करने का हक़ रखते हैं.  समाजवादी पार्टी ने कहा कि सिविल सोसाइटी से सीधी बातचीत लेकिन पार्टियों से चर्चा न होने के कारण वे अपने विचार नहीं भेज रहे.

प्रणब- 25 राज्यों और प्रदेशाध्यक्षों ने अपने विचार हमें लिखकर भेजे.

प्रणब-  लोकपाल किस तरह की संस्था हो, क्या उसके पास कुछ हद तक न्यायिक अधिकार भी हों.

प्रणब- जिन मुद्दों पर सहमति नहीं बनी वे थे कि  क्या राज्य लोकायुक्त बनाने पर सहमत होंगे, क्या प्रधानमंत्री को लोकपाल के दायरे में लाया जाए.

प्रणब- नौ अप्रैल को अन्ना के अनशन ख़त्म करने के बाद जब मसौदा समिति मिली तो 40 में से 20 बंदुओं पर सहमति बनी.

1100 IST- संसद में लोकपाल पर प्रणब मुखर्जी बयान दे रहे हैं. उन्होंने प्रधानमंत्री की अपील दोहराते हुए अन्ना से अनशन ख़त्म करने का अनुरोध किया है.

1055 IST- भारतीय समायनुसार ठीक ग्यारह बजे संसद में लोकपाल मुद्दे पर  बहस शुरु होने वाली है.  

अन्ना हज़ारे के गांव रालेगांव सिद्धी में अन्ना समर्थकों की भारी भीड़ जमा है.

शनिवार सुबह अन्ना हज़ारे की देखरेख कर रहे डॉक्टर त्रेहन ने उनकी सेहत की जानकारी दी है.

डॉक्टर त्रेहन ने कहा अन्ना का रक्तचाप घट रहा है और हॉर्ट रेट बढ़ रहा है.

भारतीय संसद में कुछ ही देर में लोकपाल विधेयक और अन्ना के आंदोलन से संबंधित विषयों पर व्यापक बहस शुरु होगी. 

अन्ना हज़ारे ने भगवद् गीता का श्लोक पढ़ा  और कहा  कि अनशन तब तक जारी रहेगा जब तक ठोस  लोकपाल बिल नहीं आ जाता है.

1000 IST-  भ्रष्टाचार के मुद्दे पर अन्ना हज़ारे के अनशन के 12वें भारतीय संसद में लोकपाल मुद्दे पर विस्तृत बहस शुरु होने जा रही है.

शनिवार सुबह डॉक्टर नरेश त्रेहन ने कहा है कि अन्ना हज़ारे का रक्त चाप कुछ नीचे आ रहा है  और हार्ट रेट बढ़ गया है.

उन्होंने कहा कि अन्ना की ब्लड रिपोर्ट शाम में आएगी और अन्ना की सेहत पर अंतिम फ़ैसला दोपहर में लिया जाएगा.

0945 IST-  डॉक्टर त्रेहन ने कहा कि अब वो स्थिति है जब अन्ना का वज़न सात किलो से कुछ अधिक कम हो गया है, कमज़ोरी बढ़ गई है और पूरी सतर्कता बरती जा रही है.

अन्ना की देखरेख कर रही डॉक्टरों की टीम की संख्या बढ़ा दी गई है.

टीम अन्ना की किरण बेदी ने कहा कि वे अन्ना से मिलकर आई हैं और उनकी हालत ठीक है.

0930 IST -  भष्ट्राचार के मुद्दे, लोकपाल विधेयक और संसद में इन मुद्दो पर विशेष बहस पर बीबीसी हिंदी के लाइव टेक्स्ट में आपका स्वागत है.

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.