सक्रिय हो रहे हैं आतंकवादी कैंप: मनमोहन

मनमोहन सिंह इमेज कॉपीरइट PIB
Image caption मनमोहन सिंह ने पुलिस अधिकारियों से सचेत रहने को कहा

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा है कि सीमा पार आतंकवादी कैंप फिर से सक्रिय हो रहे हैं.

उन्होंने कहा कि सीमा पार आतंकवाद चिंता का विषय है और ऐसी रिपोर्टें हैं कि भारतीय क्षेत्र में आतंकवादियों की घुसपैठ कराई जा रही है.

मनमोहन सिंह ने कहा, "ऐसी रिपोर्टें हैं कि सीमा पार कैंपों में बड़ी संख्या में आतंकवादी जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ की तलाश में हैं. हमें इन कोशिशों को नाकाम करने के लिए चौकस रहने की आवश्यकता है."

उन्होंने कहा कि देश में सुरक्षा का माहौल अब भी अनिश्चित है.

नई दिल्ली में राज्यों के पुलिस महानिदेशकों और महानिरीक्षकों की बैठक में उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में असली चुनौती राज्य के लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरना है.

हल

प्रधानमंत्री ने कहा कि गरमी का मौसम राज्य के लिए शांतिपूर्ण रहा है और राज्य में आने वाले तीर्थयात्रियों और पर्यटकों की संख्या रिकॉर्ड स्तर पर पहुँची है.

उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर के विद्रोही संगठन भी अब मानने लगे हैं कि ज़रूरी नहीं कि पहचान की तलाश हिंसा के साथ नहीं हो और शांतिपूर्ण तरीक़े से इसका हल निकल सकता है.

मनमोहन सिंह ने पिछले कुछ महीनों में दिल्ली और मुंबई में हुए धमाकों की चर्चा की और कहा कि ये चिंता का विषय हैं.

मनमोहन सिंह ने कहा, "हाल के आतंकवादी हमले ये बताते हैं कि हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा के सामने कितनी बड़ी चुनौती है."

वामपंथी हिंसा बड़ा ख़तरा बताते हुए प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने राज्य और केंद्र के बीच सहयोग की बात कही. उन्होंने कहा कि नक्सल समस्या के हल का सबसे अच्छा रास्ता विकास है.

संबंधित समाचार