मायावती ने धनंजय सिंह को निलंबित किया

धनंजय सिंह इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption धनंजय सिंह पर कई गंभीर आरोप हैं जिससे आगे मायावती को मुश्किलें आ सकती हैं

बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री मायावती ने अपने विवादास्पद बाहुबली सांसद धनंजय सिंह को पार्टी से निलंबित कर दिया है. धनंजय सिंह पूर्वांचल के जौनपुर से लोक सभा सदस्य हैं.

पार्टी की ओर से कहा गया है कि धंनजय सिंह पार्टी से अनुमति लिए बिना हाल ही में 'नोट के बदले वोट' मामले के अभियुक्त अमर सिंह से जेल में मिले थे और उनके पक्ष में बयान दिया था.

पार्टी के अनुसार उनका यह कृत्य अनुशासनहीनता है और उनका बयान अदालत की अवमानना.

पार्टी ने कहा है कि धनंजय सिंह ने क्षेत्रीय विकास निधि का दुरूपयोग किया. पार्टी का आरोप है, "धनंजय सिंह ने अवांछनीय और अराजक तत्वों को बीएसपी से जोड़ने का काम किया और वह क्षेत्र की जनता को प्रताड़ित करते हैं."

सच कुछ और?

लेकिन प्रेक्षकों के अनुसार ये सब आरोप महज़ दिखावा हैं.

धनजंय सिंह बहुजन समाज पार्टी में शामिल होने से पहले से आपराधिक मामलों में अभियुक्त रहे हैं. पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान विरोधी उम्मीदवार बहादुर सोनकर की बाबुल के पेड़ से लटककर संदिग्ध आत्महत्या में भी उन पर आरोप लगे थे, लेकिन कहा जाता है कि मुख्यमंत्री ने उनको बचा लिया था.

इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption मायावती को राज्य में अगले साल चुनाव भी लड़ना है

धनंजय सिंह डाक्टर सचान हत्याकांड , सीएमओ डाक्टर बीपी सिंह हत्याकांड और नेशनल रूरल हेल्थ मिशन के बहुचर्चित घोटालों के कारण कई महीनों से चर्चा में थे.

विपक्ष आरोप लगा रहा था कि इस घोटाले के तार मुख्यमंत्री मायावती से जुड़े हैं और वह अपनी पार्टी से जुड़े असली अभियुक्तों को बचा रही हैं.

यह भी चर्चा थी कि एक बार पुलिस के आला अफसरों ने धनजय सिंह से पूछताछ करने की कोशिश की थी तो उन्होंने प्रेसकांफ्रेंस बुलाकर सबको बेनकाब करने की धमकी दी थी. .

लेकिन अदालत के हस्तक्षेप से मायावती सरकार को यह मामला सीबीआई को सौंपना पड़ा है.

प्रेक्षकों का कहना है कि धंनजय सिंह का अमर सिंह से मिलना मायावती की नाराज़गी का एक कारण हो सकता है , लेकिन उन्हें निलंबित करने का एक कारण यह भी हो सकता है कि डाक्टर सचान हत्याकांड में पार्टी सांसद का नाम आया तो उनकी भी बदनामी होगी.

निलंबन की खबर सुनकर धनंजय सिंह ने एक प्रेस कांफ्रेंस बुलाई और कहा कि बहुजन समाज पार्टी में उनके खिलाफ साजिश हो रही है. धनंजय सिंह ने राज्य के विशेष पुलिस महानिदेशक और मुख्यमंत्री के क़रीबी ब्रज लाल पर आरोप लगाया कि वह उनकी हत्या कराना चाहते हैं.

डाक्टर सचान हत्याकांड का जिक्र करते हुए धनंजय सिंह ने कहा कि उससे उनका कोई लेना देना नही है और सीबीआई चार्ज शीट आने पर यह बात साफ़ हो जाएगी.

विशेष पुलिस महानिदेशक ब्रज लाल ने धनंजय सिंह के आरोप को ग़लत बताते हुए कहा कि उनका काम केवल कानून का पालन कराना है.

संबंधित समाचार