अमरीका असमान विकास का ज़िम्मेदार: जयराम

जयराम रमेश इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption जयराम रमेश ने कहा है कि देशों के भीतर की असमानताओं पर भी ध्यान देना ज़रूरी है

भारत के ग्रामीण विकास मंत्री जयराम रमेश ने अमरीका को असमान विकास के लिए सबसे बड़ा ज़िम्मेदार ठहराते हुए इस बात पर अफ़सोस जताया है कि भारत और चीन विकास के अमरीकी मॉडल का अनुसरण किए जा रहे हैं.

पूर्व पर्यावरण मंत्री और वर्तमान में संयुक्त राष्ट्र महासचिव की वैश्विक सतत विकास के लिए बनी समिति के सदस्य जयराम रमेश ने समिति को लेकर अपनी निराशा ज़ाहिर की है.

उन्होंने कहा है कि उन्हें इस बात की आशंका है कि अमरीका अगली जनवरी में पेश की जानेवाली समिति की रिपोर्ट की अनदेखी कर सकता है.

दिल्ली में संयुक्त राष्ट्र की संस्था यूएनडीपी की वार्षिक मानव विकास रिपोर्ट को जारी करते हुए जयराम रमेश ने कहा,”असमान विकास के असल पोषक विकसित देशों में हैं और उसमें सबसे बड़ा अमरीका है. वो सतत विकास की बहस में हिस्सा तक नहीं लेना चाहता“.

सतत विकास समिति

संयुक्त राष्ट्र की वैश्विक सतत विकास समिति का उल्लेख करते हुए जयराम रमेश ने कहा कि इसके सदस्य देश 12 जनवरी 2012 को संयुक्त राष्ट्र महासचिव को अपनी रिपोर्ट सौंपनेवाले हैं.

उन्होंने कहा,"हम 12 जनवरी को एक ख़ूबसूरत रिपोर्ट लेकर जाएँगे, जिसकी अमरीका पूरी तरह से उपेक्षा कर सकता है."

"ये दुर्भाग्यपूर्ण है क्योंकि अमरीका दुनिया के किसी भी दूसरे देश की तुलना में सबसे अधिक असतत विकास को जन्म देता है."

उन्होंने आगे और कहा,"अमरीका यदि ऐसा अकेला देश होता तो भी इसे नियंत्रित किया जा सकता था. मगर अमरीका का सारी दुनिया पर ऐसा प्रभाव है कि चीन और भारत जैसे देश झुककर उस अमरीकी मॉडल का अनुसरण करते चले जा रहे हैं. और इस कारण से असतत विकास और बढ़ता जा रहा है."

जयराम रमेश ने कहा कि केवल देशों के बीच की असमानता ही नहीं, बल्कि देशों के भीतर की असमानाओं पर ध्यान देना भी बहुत ही महत्वपूर्ण है.

संबंधित समाचार