क्या वाजपेयी यूपी में चुनाव प्रचार करेंगे?

अटल बिहारी वाजपेयी इमेज कॉपीरइट AP
Image caption अटल बिहारी वाजपेयी वर्ष 2006 से ही सक्रिय राजनीति से दूर हैं

क्या पूर्व प्रधानमंत्री और भारतीय जनता के पार्टी के वरिष्ठ नेता अटल बिहारी वाजपेयी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में पार्टी के लिए प्रचार करेंगे?

भाजपा ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए जिन स्टार प्रचारकों की सूची तैयार की है, उनमें अटल बिहारी वाजपेयी का भी नाम है.

ये आपको अजीब लग सकता है, क्योंकि बीमार वाजपेयी वर्ष 2006 से ही सक्रिय राजनीति से अलग हैं और बीच में तो उनकी तबीयत काफ़ी बिगड़ भी गई थी.

लेकिन कहानी में ट्विस्ट ये है कि अटल बिहारी वाजपेयी चुनाव प्रचार नहीं करेंगे, बल्कि उनके पुराने भाषणों और कविता पाठ की सीडी चुनाव रैलियों में बजाई जाएगी.

सूची

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption नरेंद्र मोदी भी उत्तर प्रदेश में चुनाव प्रचार करेंगे

चूँकि चुनाव आयोग को ये बताना ज़रूरी होता है कि पार्टी किन-किन लोगों को चुनाव प्रचार में उतार रही है, भाजपा ने सूची में वाजपेयी का भी नाम रखा है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक भाजपा की ओर से चुनाव आयोग को सौंपी जा रही सूची में लालकृष्ण आडवाणी, सुषमा स्वराज, अरुण जेटली, मुरली मनोहर जोशी, नरेंद्र मोदी और अन्य कई लोगों के साथ-साथ अटल बिहारी वाजपेयी का भी नाम है.

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी वर्षों तक लखनऊ से सांसद रह चुके हैं और अब भी लोग उनकी भाषण देने की शैली के प्रशंसक हैं.

इस सूची ने उन अटकलों पर भी विराम लगा दिया है कि गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तर प्रदेश में चुनाव प्रचार करेंगे या नहीं.

बिहार विधानसभा चुनाव में जनता दल (यू) की आपत्ति के कारण नरेंद्र मोदी को चुनाव प्रचार से अलग रखा गया था. लेकिन उत्तर प्रदेश में वे पार्टी के लिए चुनाव प्रचार करेंगे.

संबंधित समाचार