'दूसरे चरण में क़रीब आधे उम्मीदवार करोड़पति'

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption उत्तर प्रदेश में दूसरे चरण का चुनाव 11 फ़रवरी को है

उत्तर प्रदेश में दूसरे चरण के विधान सभा चुनाव में अपनी क़िस्मत आज़मा रहे उम्मीदवारों में से 41 प्रतिशत उम्मीदवार करोड़पति हैं.

एक निजी संस्था की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक इस चरण में 34 ऐसे विधायक भी मैदान में हैं जिनकी सम्पत्तियों में पांच वर्ष में औसतन 187 प्रतिशत का इजाफा हुआ है.

उत्तर प्रदेश में दूसरे चरण में 59 सीटों पर 11 फरवरी को मतदान होगा.

संस्था ने दूसरे चरण के कुल उम्मीदवारों में से 337 की सम्पत्तियों के ब्योरे के आधार पर जो निष्कर्ष निकाला है जिसमें 41 प्रतिशत उम्मीदवार करोड़पति हैं. संस्था के मुताबिक साल 2007 में सिर्फ 22 प्रतिशत उम्मीदवार ही करोड़पति थे.

सबसे अमीर

दूसरे चरण में सबसे ज्यादा सम्पत्ति वाले उम्मीदवार बीएसपी के शाह आलम हैं जो मुबारकपुर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं. इन्होंने 54.44 करोड़ रुपये की सम्पत्ति की घोषणा की है.

दूसरे नम्बर पर सैदपुर से चुनाव लड रहे समाजवादी पार्टी के सुभाष हैं जिन्होंने 35.32 करोड़ रुपये की सम्पत्ति दिखाई है.

गोरखपुर शहरी सीट से चुनाव लड़ रहे कांग्रेस के नरेन्द्र मणि त्रिपाठी ने 27.88 करोड रुपये की सम्पत्ति बताई है और वो इस सूची में तीसरे स्थान पर हैं.

संस्था के मुताबिक 337 उम्मीदवारों में से मात्र 6 प्रत्याशियों ने अपनी कुल संपत्ति एक लाख रुपये से कम दिखाई है.

वहीं, संस्था के मुताबिक यदि प्रमुख राजनीतिक दलों की बात की जाए तो समाजवादी पार्टी के उम्म्दीवारों की औसत सम्पत्ति 2.13 करोड़, बीएसपी की 3.36 करोड़, बीजेपी की 1.24 करोड़, कांग्रेस की 1.68 करोड रुपये, पीस पार्टी की 2.03 करोड रुपये, जेडीयू की 61.02 लाख, कौमी एकता दल की 1.36 करोड और अपना दल की 13.68 लाख रुपये है.

संबंधित समाचार