फ़लक की 'मां का डीएनए'

बेबी फ़लक मां इमेज कॉपीरइट pti

दिल्ली में पुलिस एक ऐसी महिला की डीएनए जांच करवा रही है जिसपर शक है कि वो बेबी फ़लक की मां हो सकती है.

बेबी फ़लक पिछले लगभग पंद्रह दिनों से अस्पताल में भरती है और हालांकि चिकित्सक उसकी जान बचाने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन उसमें बहुत सुधार नहीं आ पाया है.

बेबी फ़लक को एक लड़की अस्पताल में लेकर आई थी.

मां होने का दावा

पुलिस ने जिस महिला को डीएनए टेस्ट के लिए लाया है उसका नाम मुन्नी है और उन्हें राजस्थान से दिल्ली लाया गया था.

महिला ने बेबी फ़लक की मां होने का दावा किया था.

पुलिस इस मामले में पहले ही चार लोगों को गिरफ़्तार कर चुकी है जिसमें दो महिलाएं भी शामिल हैं.

पुलिस को शक है कि बच्ची के अस्पताल में पहुंचने से पहले उसे कई लोगों को सौंपा गया था जिस क्रम में वो उस लड़की के पास पहुंची जो उसे लेकर अस्पताल आई थी.

बेबी फ़लक को जब अस्पताल में भरती करवाया गया था तब वो बुरी तरह से ज़ख़्मी थी और उसके शरीर पर दांतों के निशान थे.

वेश्यावृति

मुन्नी ने पुलिस को बताया है कि उसके पति ने उसे वेश्यावृति के लिए मजबूर किया था जिसके कारण वो घर छोड़कर भाग गई थी.

इस मामले में मुख्य संदिग्ध, राज कुमार, अभी भी पुलिस की गिरफ्त में नहीं आ पाए हैं. समझा जाता है कि बेबी फ़लक को उसी ने उस लड़की के हवाले किया था जो उसे अस्पताल लेकर आई थी.

हालांकि राजकुमार का मुन्नी से कोई रिश्ता नहीं बताया गया है.

बेबी फ़लक को अस्पताल लाने वाली लड़की ने दावा किया था कि वो उसकी मां है औप बच्ची बिस्तर से नीचे गिर गई थी लेकिन बाद में पूछताछ के दौरान पता चला कि उसने पिता ने उसे निकाल दिया था और उससे वेश्यावृति करवाई जा रही थी.

लड़की के पिता को भी पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है.

संबंधित समाचार