'लोकतंत्र का अपमान कर रहे हैं दिग्विजय'

दिग्विजय सिंह इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption दिग्विजय सिंह उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के प्रभारी हैं

समाजवादी पार्टी ने कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह की उत्तर प्रदेश में राष्ट्रपति शासन के बारे में कथित टिप्पणी पर कड़ी आपत्ति जताई है.

पार्टी ने इसे लोकतांत्रिक परंपरा का अपमान बताया है.

उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी अकेले दम पर चुनाव लड़ रही है, जबकि कांग्रेस और अजित सिंह के राष्ट्रीय लोकदल ने चुनाव से पहले गठबंधन किया है.

लखनऊ में एक संवाददाता सम्मेलन में समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा, "राज्य में चुनाव हो रहे हैं और इस समय राज्य में राष्ट्रपति शासन की अटकलें लगाना लोकतंत्र में जनता की शक्ति को कम करने आँकना है. ये अपमान है. ऐसा लगता है कि कांग्रेस ने लोगों में भरोसा गँवा दिया है और पार्टी सस्ती लोकप्रियता के लिए ऐसे बयान दे रही है."

समर्थन

राजेंद्र चौधरी ने कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी पर भी निशाना साधा और कहा कि उनकी बैठकों में कुछ सौ लोग जुट रहे हैं.

लेकिन समाजवादी पार्टी नेता अखिलेश यादव की सभा में हज़ारों लोग आ रहे हैं, जो उनका दिल से समर्थन कर रहे हैं.

उन्होंने दावा किया कि समाजवादी पार्टी की बदौलत ही केंद्र में कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार चल रही है.

राजेंद्र चौधरी ने कहा कि अगर मुलायम सिंह यादव ने उत्तर प्रदेश में सांप्रदायिक ताक़तों को नहीं रोका होता, वे देश पर शासन कर रहे होते.

उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी यूपीए का इसलिए समर्थन कर रही है ताकि वो सांप्रदायिक शक्तियों को रोके लेकिन अपनी कार्रवाई और बयानों से कांग्रेस उत्तर प्रदेश में सांप्रदायिक शक्तियों को मज़बूत कर रही है.

संबंधित समाचार