कलावती का वोट मायावती को

कलावती
Image caption कलावती ने विकास के नाम पर मायावती को वोट दिया है.

कलावती का नाम भले ही कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लोकप्रिय कर दिया हो लेकिन कलावती का वोट मिला है मायावती को.

हालांकि राहुल गांधी की कलावती महाराष्ट्र की थीं और मायावती को वोट देने वाली कलावती रामपुर की हैं.

जब कलावती नाम की यह महिला वोट देकर बूथ के बाहर आईं तो मैंने उनसे यूं ही पूछ लिया कि उन्होंने किसे वोट दिया है. बोलीं कि जिसे देना चाहिए उसे ही दिया है.

जबान में नमक था तो हमने सोचा नाम ही पूछा जाए.

नाम पूछा तो चेहरे पर हल्की सी मुस्कान आई और बोलीं, ‘‘कलावती नाम है मेरा.’’

अरे, फिर तो आपको पता होगा कि ये नाम राहुल गांधी ने संसद में लिया था.

वो शर्माईं और बोलीं, ‘‘हां वो तो है. लेकिन मैंने वोट विकास करने वाली पार्टी को दिया है. मैंने तो बहनजी को वोट दिया है. मायावती जी ने हमें रहने को छत दी. हमारा भला उन्होंने ही किया तो वोट भी हमने उन्हीं को दिया.’’

लेकिन रामपुर से बसपा के उम्मीदवार तो कमज़ोर बताए जा रहे हैं, वो बोलीं, ‘‘जो हमारा साथ देगी उसको वोट दिया है. काम नहीं किया है तो करेंगी आने वाले समय में, सबकुछ करेंगी मायावती जी.’’

रामपुर की बहनजी

वैसे रामपुर में बहनजी के नाम से कोई और भी जाना जाता है.

Image caption बन्ना हाजी के लिए जाया प्रदा ही उनकी बहनजी हैं.

मायावती के अलावा बहनजी कौन?

रिक्शाचालक बन्ना हाज़ी ने जब कहा कि वो अपना वोट बहन जी को देंगे तो हमने भी समझा कि वो मायावती को वोट डालेंगे.

लेकिन न जाने क्यों हमने पूछ लिया कि मायावती ने तो आपका विकास किया नहीं.

बन्ना हाज़ी बोले, ‘‘अरे हम मायावती नहीं जया प्रदा बहनजी की बात कर रहे हैं. हम उन्हीं को वोट डालेंगे बाल्टी छाप पर.’’

अच्छा-अच्छा लेकिन जया जी को ही क्यों. वो तो सांसद हैं और उन्होंने क्या किया है?

बन्ना हाज़ी बोले, ‘‘सांसद चुनाव में हमने उनको वोट डाला था. वो ही हमारी मदद करेंगी. अभी तक मदद नहीं किया है लेकिन जया प्रदा बहनजी परदेस की हैं तो हम उनको चुनेंगे.’’

लेकिन यहां के बड़े नेता आज़म खान बताए जाते हैं, बन्ना बोले, ‘‘वो बड़े नेता हैं. हम इनकार कहां कर रहे हैं लेकिन हम वोट जया प्रदा बहनजी को ही देंगे. परदेस के लोग हैं गरीब का विकास वही करेंगे.’’

संबंधित समाचार