रेल बजट: खास बिंदु

रेल मंत्री दिनेश त्रिवेदी ने अपना पहला रेल बजट पेश करते हुए बांग्ला भाषा में मां माटी और मानुष का शुक्रिया अदा किया और कहा कि रेलवे एक कठिन दौर से गुज़र रहा है.

रेल बजट की ख़ास बातें

पैसेंजर ट्रेनों में दो पैसा प्रति किलोमीटर, एक्सप्रेस ट्रेनों में पांच पैसा प्रति किलोमीटर, एसी चेयरकार में दस पैसा प्रति किलोमीटर, थर्ड क्लास एसी में दस पैसे प्रति किलोमीटर, सेकंड क्लास एसी में 15 पैसे प्रति किलोमीटर और फर्स्ट क्लास एसी में 30 पैसे प्रति किलोमीटर के हिसाब से किराया बढ़ाया गया है.

इतना ही नहीं, प्लेटफॉर्म टिकट का मूल्य अब पांच रूपए होगा. रेल रोड ग्रेट सेपरेशन कारपोरेशन ऑफ इंडिया बनाया जाएगा जो रेल क्रासिंग बनाएगी अगले पाँच वर्षों में.

न्यूक्लियर साइंस और एयरोस्पेस से लोग मदद करेंगे सुरक्षा के क्षेत्र में. हाई स्पीड रेलवे सेफ्टी कमिटी में अनिल काकोदकर मदद कर रहे हैं.

सैम पित्रोदा की अध्यक्षता में आधुनिकीकरण और रिसोर्स मोबिलाइजेशन के लिए कमिटी बनी जिसकी सिफारिशें आई हैं.

मंत्रालय का फोकस सुरक्षा, आधुनिकीकरण

मेट्रो शहरों में और स्टेशन बनाए जाएंगे.

चार नए कोच टर्मिनल बनाए जाएंगे जिसके लिए फीजिबिलिटी स्टडी चल रही है.

अगले दस वर्षों में 14 लाख करोड़ की जरुरत.

487 परियोजनाएं चल रही है जो पूरा होने के अलग अलग चरणों में हैं.

रेलवे का सुरक्षा फंड 12 वीं योजना में 16, 842 करोड़ रूपए होगा.

19000 किलोमीटर पटरियों के आधुनिकीकरण की योजना.

रेलवे सकल घरेलू उत्पाद का दो प्रतिशत रेलवे से आए जो अभी एक प्रतिशत है.

6467 करोड़ रुपए पटरियों के आधुनिकीकरण में लगेंगे.

इंडियन रेलवे स्टेशन्स डेवलपेंट कार्प स्टेशनों के विकास का काम देखेगी एयरपोर्ट की तर्ज़ पर.

आदिवासी इलाक़ों में नई रेल योजनाएं.

12 वीं पंचवर्षीय योजना में सभी मीटर और नैरो गैज सेक्शनों को ब्रॉड गेज किया जाएगा.सिर्फ हेरिटेज लाइनों को छोड़कर.

इस वर्ष 725 किलोमीटर पटरियां बिछाई गईं जिसमें 6725 करोड़ रुपए खर्च हुए.

ट्रेनों की गति बढ़ाकर 160 किलोमीटर प्रति घंटा करने की कोशिश होगी.

रेलवे स्टेशन को बेहतर करने से 50 हजार लोगों को रोज़गार मिल सकेगा.

आधुनिकीकरण के लिए 5.60 लाख करोड़ रुपए की ज़रुरत.

भारत के अगरतला से बांग्लादेश के अकूरा तक रेलवे लिंक बनाया जाएगा.

929 स्टेशनों का अपग्रेडेशन होगा.

पटरियों में जंग लगने से करोड़ों का नुकसान होता है. ओपन डिस्चार्ड टायलेट को हटा कर ग्रीन टायलेट लाया जाएगा. 2500 कोच में बायो टायलेट लगाया जाएगा.

मध्य प्रदेश के विदिशा में लोकोमोटिव फैक्ट्री लगाई जाएगी.

75 नए एक्सप्रेस ट्रेनों और 21 पैसेंजर ट्रेनों का प्रस्ताव.

गुरु परिक्रमा ट्रेन का प्रस्ताव जो अमृतसर-पटना-नांदेड़ चलेगी.

44 नई सेवाएं कोलकाता में,50 नई सेवाएं कोलकाता मेट्रो में.

ट्रेनों के स्टाप्स नहीं बढ़ाया जा सकता है. इसके लिए कई आग्रह आए थे.

रेलवे बोर्ड में दो नए सदस्य मार्केटिंग और सेफ्टी.

2011 में 80,000 नई नियुक्तियां हुई हैं अगले कुछ दिनों में एक लाख रोजगार उपलब्ध होंगे.

गरीब रथों में एक अतिरिक्त एसी बोगी होगी विकलांगों के लिए.