रक्षा खरीद की प्रक्रिया दुरूस्त की जाए: एंटनी

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption भारतीय रक्षा मंत्री ने कहा है कि रक्षा सौदों की प्रक्रिया तेज़ की जाए ताकि देरी के लिए जवाबदेही तय की जा सके

भारतीय रक्षा मंत्री एके एंटनी ने रक्षा सौदों की प्रक्रिया में सुधार लाने और उसे और तेज बनाने पर जोर दिया है ताकि इन सौदों में होने वाली देरी के लिए जवाबदेही तय की जा सके.

रक्षा मंत्री ने ये भी कहा कि सेना को तकनीकी परीक्षण में लगने वाले समय में भी कटौती करनी चाहिए.

उन्होंने सेना मुख्यालय को ज्यादा वित्तीय अधिकार देने की बात कही ताकि उपकरणों और हथियारों की खरीद की प्रक्रिया को गति दी जा सके.

इस बैठक में भारतीय सेनाध्यक्ष जनरल वीके सिंह के अलावा भारतीय सेना के अन्य आला अधिकारियों ने भी हिस्सा लिया.

बैठक में लिए गए फ़ैसलों की प्रगति की समीक्षा मई महीने में होने वाली बैठक में की जाएगी

बैठक की अहमियत

भारतीय सेना के प्रमुख जनरल वीके सिंह को रिश्‍वत की पेशकश और प्रधानमंत्री को सेना की मौजूदा हालत के बारे में लिखी उनकी चिट्ठी लीक होने से मचे बवाल के बाद आर्मी चीफ और रक्षा मंत्री पहली बार आमने-सामने हुए.

इस वजह से यह मुलाकात बेहद अहम मानी जा रही थी.

भारतीय सेना प्रमुख जनरल वीके सिंह ने भारतीय सेना की मौजूदा हालत और रक्षा उपकरणों की लचर स्थिति पर भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को एक पत्र लिखा था, जिसके मीडिया में लीक होने के बाद विवाद खड़ा हो गया.

फिलहाल इस मामले की जांच सीबीआई कर रही है.

संबंधित समाचार