तेज रफ्तार कार ने कांस्टेबल को कुचला

दिल्ली पुलिस इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption दिल्ली पुलिस के सिपाही दीपक चौहान की मौके पर ही मौत हो गई.

मंगलवार तड़के दिल्ली में एक तेज़ रफ़्तार से भागती कार ने पुलिस के दो सिपाहियों को कुचल दिया. इस दुर्घटना में एक सिपाही की मौके पर ही मौत हो गई है और दूसरा गंभीर रूप से घायल है.

दुर्घटना में शामिल मर्सिडीज कार को गुरदीप सिंह नाम के व्यवसायी चला रहे थे. उनकी कार मोटरसाइकिल पर सवार दिल्ली पुलिस के दो सिपाहियों दीपक कुमार चौहान और अमित कुमार से जा टकराई.

दीपक कुमार चौहान को कार कुछ दूरी घसीटते हुए ले गई और उनकी मौके पर ही मौत हो गई. इस घटना में 24 वर्षीय अमित कुमार बुरी तरह ज़ख्मी हो गए.

दुर्घटना के बाद भागा ड्राइवर

दीपक कुमार चौहान के रिश्तेदार राजेश कुमार ने पत्रकारों को बताया, "हमें दुर्घटना का पता चला तो हम मौके पर पहुंचे. यहां पर ना तो गाड़ी थी और ना ही उसका ड्राइवर. हमने यहां दीपक जी का मृत शरीर देखा. हमें ऐसा लगा कि उनके मौके पर ही मौत हो गई होगी."

कार के चालक गुरदीप सिंह सिपाहियों को घटनास्थल पर छोड़कर भाग गए लेकिन उन्हें बाद में उनके ग्रेटर कैलाश निवास से गिरफ़्तार कर लिया गया.

गुरदीप सिंह ने पुलिस को बताया कि दुर्घटना के बाद वे घबरा गए थे इसलिए वे घटनास्थल से भाग गए.

प्रत्यक्षदर्शियों ने गुरदीप सिंह की गाड़ी का नंबर लिख लिया था जिसकी सहायता से पुलिस ने उन्हें ग्रेटर कैलाश के एकता इन्क्लेव से गिरफ़्तार कर लिया.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया, “सिपाही रात की ड्यूटी पर थे. गुरदीप सिंह ने हमें बताया है कि उन्हें गाड़ी चलाते वक्त नींद आ गई थी जिसकी वजह से वो पुलिसकर्मियों को नहीं देख पाए.”

पुलिस के अनुसार गुरदीप सिंह के मैडिकल टेस्ट से पता चला है कि वो नशे में नहीं थे.

गुरदीप सिंह पर भारतीय दंड संहिता के अधीन ख़तरनाक और लापरवाह ढंग से गाड़ी चलाने, गैर-इरादतन हत्या (लेकिन वध नहीं) और अपनी तथा दूसरों के जीवन की सुरक्षा को ख़तरे में डालने के मामले दर्ज किए गए हैं.

संबंधित समाचार