कोकब हमीद ने छोड़ा अजित सिंह का साथ

अजित सिंह (फाइल) इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption अनुराधा चौधरी के बाद अब कोकब हमीद खान के भी अजित सिंह का साथ छोड़ा.

राष्ट्रीय लोकदल नेता और बागपत के पूर्व विधायक कोकब हमीद खान ने पार्टी से त्यागपत्र दे दिया है.

कोकब हमीद खान के कहा है कि राष्ट्रीय लोकदल का परंपरागत वोट उससे खिसक रहा है जिसकी वजह से पार्टी के उम्मीदवारों को हार का सामना करना पड़ रहा है.

उन्होंने कहा कि यही वजह है कि उन्होंने पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है.

लेकिन समझा जाता है कि उन्होंने ये कदम विधान परिषद के लिए हो रहे चुनाव में टिकट न मिलने के कारण उठाया है. हालांकि वो इस बात से इंकार करते हैं.

माना जा रहा है कि कोकब हमीद खान का ये फैसला केंद्रीय मंत्री अजित सिहं के राजनीतिक दल को नुकसान पहुंचा सकता है.

राजनीतिक सफर के शुरूआती दौर में कांग्रेस के साथ रहे कोकब हमीद खान बाद में राष्ट्रीय लोकदल में शामिल हो गए थे.

कई दफा विधायक और मंत्री रह चुके कोकब हमीद खान हालांकि हाल में हुए उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनावों में हार गए थे.

नाराजगी

कहा जा रहा है कि कोकब हमीद खान को उम्मीद थी कि अजित सिंह उन्हें विधान परिषद के लिए होने वाले चुनाव में टिकट दे देंगे लेकिन ऐसा हुआ नहीं.

राष्ट्रीय लोकदल ने मोहम्मद मुश्ताक को प्रत्याशी घोषित कर दिया जिससे नाराज कोकब हमीद खान ने त्यागपत्र का ऐलान कर दिया.

उत्तर प्रदेश विधान परिषद की 13 सीटों के लिए सोमवार तक नामांकन दाखिल कर दिए जाने हैं.

कहा जा रहा है कि कांग्रेस का एक धड़ा भी कोकब हमीद के साथ है.

हर कुछ दिनों बार राजनीतिक गठबंधन बदल लेने वाले अजीत सिंह पिछले साल से कांग्रेस के साथ हैं और एक समझौते के तहत उन्हे केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय हासिल हुआ है.

राजनीतिक हलकों में चर्चा है कि कोकब हमीद समाजवादी पार्टी में शामिल हो सकते हैं जो रशीद मसूद के पार्टी छोड़ने के बाद पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बड़े मुस्लिम नेता की तलाश में है.

संबंधित समाचार