महिलाओं को मिले शौच का अधिकार

शौचालय
Image caption भारत में लगभग आधे घरों में शौचालय नहीं हैं

मुंबई की कई गैर सरकारी संस्थाओं ने सार्वजनिक शौचालयों में महिलाओं के लिये मुनासिब सुविधाएँ प्राप्त करने के लिए शहर के विभिन्न इलाकों में एक मुहिम छेड़ दी है.

इन्होने शहर की महिला नगरसेवकों से अपील की है कि वह इस मुद्दे में हस्तक्षेप करें.

मुंबई शहर में महिलाओं के लिए सार्वजनिक शौचालय कम हैं और इनमे उनके लिए पर्याप्त सुविधाएं नहीं हैं. उन्हें इसके इस्तेमाल के पैसे भी देने पड़ते हैं.

कॉलेज में पढने वाली एक युवती ने कहा, "महिलाओं के लिए मुंबई में सार्वजनिक शौचालयों की कमी और उनमे पर्याप्त सुविधाएं नहीं होने से बहुत दिक्कत होती है और मैं इस मुहिम का पूरी तरह से समर्थन करती हूँ.''

अपने परिवार के साथ दादर स्टेशन के बाहर खड़ी एक अन्य महिला ने कहा, "महिलाओं के लिए पर्याप्त शौचालय न होना बहुत खराब बात है. महिलाओं के लिए तो सुविधाएं होनी चाहिए."

इन महिलाओं की आवाज को महिला नगरसेवकों तक पहुचाने का बेड़ा उठा रखा है शहर की 35 गैरसरकारी संस्थाओं ने.

दादर में इन संस्थाओं के समाज सेवक लोगों के बीच जा कर हस्ताक्षर अभियान चला रहे हैं.

पुरुष भी साथ

समाज सेवक यह देख कर संतुष्ट थे की इस मुहिम में महिलाओं के साथ पुरुष भी कन्धे से कन्धा मिला कर भाग ले रहे थे

इस मुहीम का नेतृत्व करने वाली एक गैरसरकारी संस्था के प्रमुख राहुल गायकवाड ने अपनी मांगों को बयां करते हुए कहा, "हमारी एक मांग है कि महिलाओं के शौचालय साफ होने चाहिए, क्यूंकि गंदे शौचालयों की वजह से उनकी सेहत पर भी बुरा असर पड़ता है.''

इस मुहीम का आगाज पिछले हफ्ते भीड़-भाड़ वाले कुर्ला इलाके से हुआ था जहाँ स्थानीय लोगों ने इसमें बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया था. गायकवाड के अनुसार 7,000 से ज्यादा लोगों ने हस्ताक्षर करके इस मुहिम को अपना समर्थन दिया था.

मुंबई में पब्लिक शोचालय में महिलाओं के लिए सुविधाओं की कमी शहर की एक पुरानी समस्या है.

पिछली मुहिम

पिछले साल भी इसी तरह की मुहिम छेड़ी गयी थी जिसका कोई नतीजा नहीं निकला.

समाज सेवक कहते हैं कि महानगर पालिका में महिलाओं का बहुमत होने के बावजूद भी शौचालयों के इस्तमाल के लिए आज भी मुंबई की महिलाओं को पैसे देने पड़ते हैं, जबकि पुरुष ये सेवा मुफ्त में हासिल करते हैं.

समाजसेवकों का कहना है कि मुंबई की महिलाओं की यह समस्या देश के अन्य शहरों में भी मौजूद है.

संबंधित समाचार