अगवा कलेक्टर 'स्वस्थ और सकुशल' हैं: वार्ताकार

Image caption कलेक्टर ऐलक्स पॉल मेनन को माओवादियों ने पिछले शनिवार अगुवा किया था.

नक्सलियों से उनके गढ़ में मिलकर वापस लौटे वार्ताकारों नें कहा है कि अगवा किये गए सुकमा के कलक्टर एलेक्स पॉल मेनन 'स्वस्थ एवं सकुशल' है.

दोनों वार्ताकार- ब्रह्मदेव शर्मा और प्रोफेस्सर हरगोपाल रविवार की सुबह जंगलों से चिंतलनार स्थित केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के कैंप पहुंचे.

हालांकि उन्होंने यह बताने से इनकार किया कि नक्सली नेताओं से उनकी क्या बातचीत हुई, मगर इतने संकेत जरूर दिए कि कलेक्टर की रिहाई के बदले माओवादियों द्वारा अपने आठ साथियों और नौ ग्रामीणों की रिहाई के लिए रखी गयी शर्तों पर दोनों पक्षों के बीच आम सहमति नहीं बन पाई है.

वार्ताकारों नें कहा कि माओवादियों से क्या चर्चा हुई इसपर वह मीडिया से कोई बात करने की बजाय सरकार से बात करना चाहेंगे.

उनका कहना था कि अब तक की वार्ताओं का दौर साकारात्मक रहा है. हरगोपाल का कहना था कि जो कुछ माओवादी नेताओं नें बताया है उसको वह छत्तीसगढ़ की सरकार द्वारा नियुक्त किये गए वार्ताकार निर्मला बुच और सुयोग्य मिश्र को बताएँगे.

हरगोपाल और ब्रह्मदेव शर्मा शनिवार की सुबह हेलीकॉप्टर से चिन्तलनार पहुंचे और फिर मीडिया वालों की गाड़ी में बैठकर ताड़ मेटला तक गए थे.

वहां से माओवादियों का हथियारबंद दस्ता उन्हें लेकर अन्दर जंगल में चला गया.

दोनों वार्ताकारों नें रात माओवादियों के साथ बिताई और ऐसा कहा जा रहा है कि इस दौरान उन्होंने संगठन के शीर्ष नेतृत्व से लंबी बातचीत की.

संबंधित समाचार