सीबीआई ने की श्रीनिवासन से पूछताछ

इमेज कॉपीरइट Getty

इंडिया सीमेंट कम्पनी के मैनेजिंग डॉयरेक्टर और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष एन श्रीनिवासन से सोमवार को केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने हैदराबाद में पूछताछ की है.

सीबीआई ने श्रीनिवासन को विवादास्पद लोक सभा सदस्य और वाईएसआर कांग्रेस के अध्यक्ष जगनमोहन रेड्डी की आय से ज्यादा संपत्ति के मामले में तलब किया था.

श्रीनिवासन उन कई उद्योगपतियों में से एक हैं जिनसे जगन की कंपनियों में पूँजी- निवेश के बारे में पूछताछ की जा रही है.

श्रीनिवासन से सोमवार को सीबीआई के अधिकारियों ने दिलकुशा गेस्ट हाउस में स्थित कार्यालय में पूछताछ किया.

कहा जाता है कि पूछताछ इसी बात पर केन्द्रित था कि इंडिया सीमेंट कंपनी ने जगन की सीमेंट कम्पनी के शेयर 350 रूपए के हिसाब से क्यों खरीदे, जबकि खुद उनकी कंपनी के शेयर की कीमत उतनी ज्यादा नहीं है.

आरोप

सीबीआई ने अभियोग पत्र में कहा है कि इंडिया सीमेंट जैसी कई कंपनियों को जगन के पिता पूर्व मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी ने फायदे पहुंचाए थे और बदले में इन कंपनियों ने जगन की कंपनी में पूँजी-निवेश किया है.

सीबीआई का यह भी कहना है कि श्रीनिवासन की कम्पनी ने जगन के व्यापार में कुल 135 करोड़ रुपये का पूँजी-निवेश किया है क्योंकि वाईएसआर की सरकार ने श्रीनिवासन की इंडिया सीमेंट कंपनी के दो प्लांट्स को सप्लाई किये जाने वाले पानी की मात्रा कई गुना बढा दी थी.

इससे इन प्लांटों में सीमेंट का उत्पादन दोगुना हो गया था. इंडिया सीमेंट को कृष्णा नदी से दस लाख गैलन और कगना नदी से तेरह लाख गैलन पानी मिलने लगा. इससे पहले इन दोनों ही नदियों से दोनों प्लांट्स को केवल कुल मिलाकर तीन लाख गैलन ही पानी मिल पार रहा था.

सीबीआई इस मामले में तत्कालीन सिंचाई मंत्री पोंनाला लक्ष्म्या से भी पूछताछ कर चुकी है.

माना जा रहा है कि इस मामले में सीबीआई डालमिया सीमेंट के अधिकारियों से भी पूछताछ कर सकती है.

संबंधित समाचार