पहलवान और अभिनेता दारा सिंह नहीं रहे

दारा सिंह इमेज कॉपीरइट Getty
Image caption दारा सिंह का नाम बलवान होने के पर्याय के तौर इस्तेमाल होता था - 'अपने को दारा सिंह समझते हैं.'

पहलवान से अदाकार बने दारा सिंह का गुरूवार सुबह मुंबई में देहांत हो गया.

वो चौरासी बरस के थे.

दारा सिहं को पिछले दिनो दिल का दौरा पड़ा था जिसके बाद उन्हें स्थानीय कोकिलाबेन अस्पताल में भर्ती करवाया गया था लेकिन वहां उनकी हालत में किसी तरह का सुधार नहीं हुआ.

बाद में उनके परिवार वाले उन्हें घर वापस ले गए थे.

उनके बेटे विंदू ने कहा था कि बीमारी ने उनके मस्तिष्क पर काफी प्रभाव डाला है. हम चाहते हैं कि वो आखिरी क्षण अपने परिवार के साथ बिता सकें.

अहम हिस्सा

अभिनेता अनुपम खेर ने एक टेलीवीजन चैनल पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि दारा सिंह वो हस्ती थे जिनको लेकर लोग कहावते कह देते थे - 'अपने आपको दारा सिंह समझते हैं'.

अनुपम खेर का कहना था कि दारा सिंह बड़े सरल स्वभाव के व्यक्ति थे और उनकी हंसी बच्चों जैसी थी.

उन्होंने कहा कि हो सकता है कि आज की पीढ़ी दारा सिंह को शायद न जाने लेकिन वो हमारी बचपन और जवानी की यादों का अहम हिस्सा हैं.

स्वास्थ्य लाभ की संभावना कम

समाचार एजेंसी पीटीआई ने चिकित्सकों के हवाले से कहा था कि "उनके स्वास्थ्य लाभ की संभावना बहुत कम थी" क्योंकि बीमारी ने उनके मस्तिष्क को बुरी तरह से प्रभावित हो गया था.

तब उनके बेटे विंदू ने कहा था, "उन्हें घर वापस ले आया गया है. मेहरबानी करके हमारा पीछा न करें. हम आपको पूरी जानकारी देते रहेंगे. कोई उम्मीद नहीं बची है."

राष्ट्रमंडल खेलों के चैंपियन दारा सिंह ने बाद में फिल्मों भी काम किया है.

हाल में ही वो इमितयाज अली की फिल्म 'जब वी मेट' में करीना कपूर के दादा के किरदार में नजर आए थे.

उन्होंने प्रसिद्ध टेलीवीजन सीरियल रामायण में हनुमान की भूमिका निभाई थी.

संबंधित समाचार