समर्थन के लिए प्रणब का ममता को पत्र

 रविवार, 15 जुलाई, 2012 को 21:59 IST तक के समाचार
प्रणब मुखर्जी

रविवार को प्रणब मुखर्जी चंडीगढ़ भी पहुंचे.

भारत में राष्ट्रपति चुनाव से तीन दिन पहले रविवार को यूपीए के उम्मीदवार प्रणब मुखर्जी ने तृणामूल कांग्रेस की प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से समर्थन मांगने के लिए एक पत्र लिखा है.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रणब मुखर्जी के पत्र को अपने फेसबुक के पन्ने पर डालते हुए इसकी पुष्टि की है.

प्रणब मुखर्जी ने पत्र में लिखा है, “राष्ट्रपति का पद दलगत राजनीति से ऊपर होता है. अवसर मिलने पर मैं इस पद के मूल्यों - ईमानदारी, निष्पक्षता और सर्व धर्म संभाव को बढ़ावा देने का प्रयास करुंगा. ”

प्रणब मुखर्जी ने अपने खत में आगे लिखा है, “अगर मेरे चुनाव का कोई अर्थ है तो वो है अपनी मातृभूमि की सेवा करना. इसी भावना के साथ में आपका बहुमूल्य समर्थन चाहता हूं. ”

ये कहते हुए कि उनके सार्वजनिक जीवन की शुरुआत पश्चिम बंगाल के एक गांव से हुई थी, उन्होंने कहा है कि उन्हें गरीबों के लिए प्रतिबद्धता की शिक्षा इंदिरा गांधी से हासिल की है.

तृणामूल कांग्रेस प्रमुख पहले ही कह चुकी हैं कि वो 19 जुलाई को होने वाले चुनाव से तीन दिन पहले ही बताएंगी कि उनकी पार्टी किसको समर्थन देने वाली है.

इससे पहले रविवार को श्रीनगर मे जब प्रणब मुखर्जी से ये पूछा गया था कि क्या वो ममता बनर्जी से समर्थन मांगेगे तो उनका जवाब था, “मैं उनसे हर दिन समर्थन मांगता हूं...अब फैसला उन्हें ही करना है. ”

रविवार को ही प्रणब मुखर्जी ने श्रीनगर पहुंचकर राज्य के मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के विधायकों से मिले और अपने उम्मीदवारी के लिए समर्थन मांगा.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.