अपने ही घर में 'कैद' पिंकी प्रमाणिक

 गुरुवार, 19 जुलाई, 2012 को 07:08 IST तक के समाचार
अपमी मां के साथ पिंकी प्रमाणिक

अपमी मां के साथ पिंकी प्रमाणिक

मैं जब पिंकी प्रमाणिक से बात करने कोलकाता स्थित उनके घर पहुंची तो मैंने पाया कि उनके घर पर ताला लगा है.

मेरी पहले ही उनसे इंटरव्यू के सिलसिले में बात हो चुकी थी, इसलिए मैंने पिंकी के मोबाइल पर फोन लगाकर कहा कि मैं आपके घर के बाहर खड़ी हूं. तब पिंकी की मां ने घर के अंदर से ही दरवाजे के बाहर हाथ निकालकर ताला खोला और मुझसे कहा कि जल्दी से अंदर आ जाओ.

जब मैं अंदर पहुंची तो पिंकी की मां ने मुझसे पूछा कि आस पडो़स के लोग पिंकी के बारे में कुछ कह तो नहीं रहे थे.

पिंकी पर अपनी एक महिला मित्र से बलात्कार का और पुरुष होने का आरोप है. इसी मामले में उन्हें हिरासत में लेकर उनके दो मेडिकल टेस्ट कराए गए.

"मेरी उस दोस्त ने मेरे घर में रहते समय मेरी कुछ नग्न तस्वीरें खींच ली थीं. उसने मुझसे मेरा ही फ्लैट हड़पना चाहा. जब बात नहीं बनी तो उसने मुझे धमकी दी कि मैं तुम्हारी ये तस्वीरें इंटरनेट पर डाल दूंगी. फिर एक दिन उसने मुझ पर ये बलात्कार का झूठा आरोप लगाया और मुझे पकड़वा दिया"

पिंकी प्रमाणिक

फिर 26 दिन जेल में बिताने के बाद उन्हें जमानत दे दी गई.

'मैंने मुसीबत में मदद की, उसने झूठा आरोप लगाया'

फिर 17 जुलाई को उन पर बलात्कार का आरोप लगाया गया. लेकिन अब ये मामले और पेचीदा होता जा रहा है और पिंकी ने अपनी महिला मित्र और उसके कुछ जानकारों पर संपत्ति विवाद के कारण उन्हें फंसाने का आरोप लगाया है.

इन्हीं सब मुद्दों पर पिंकी से मेरी बात हुई.

पिंकी ने बताया कि पिछले कुछ दिन उनके लिए बेहद तकलीफदेह रहे. एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली पिंकी और उनके घरवाले शुरू से ही बलात्कार के आरोपों का खंडन करते हुए इसे एक साजिश करार दे रहे हैं.

पिंकी कहती हैं, "मेरी जिस महिला मित्र ने मुझ पर आरोप लगाए, उसकी मैंने मुसीबत के वक्त मदद की थी. उसे रहने के लिए मैंने घर दिया और उसने मुझ पर ही ये झूठा इल्जाम लगा दिया."

पिंकी के मुताबिक उनकी उस महिला मित्र ने उनके घर में रहने के दौरान उनकी कुछ तस्वीरें खींच ली थीं.

पिंकी प्रमाणिक

पिंकी की मां के मुताबिक वो घर से बाहर नहीं निकलतीं.

पिंकी का आरोप है, "ये पूरा प्रकरण मुझसे मेरा फ्लैट हड़पने की कोशिश के तहत हुआ है. जब बात नहीं बनी तो मुझे धमकी दी गई फिर एक दिन मुझ पर ये बलात्कार का झूठा आरोप लगाया गया और मुझे पकड़वा दिया."

पिंकी ने अपनी उस महिला मित्र के इस आरोप का भी साफतौर पर खंडन किया कि वो उससे प्यार करती थीं और उन्होंने उससे शादी का वादा भी किया था.

पिंकी आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहती हैं कि पुलिस ने उन पर तो तत्काल कार्रवाई करते हुए उन्हें हिरासत में ले लिया और उनकी उस महिला मित्र पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई जो बार-बार अपने बयान बदल रही है.

पिंकी कहती हैं, "मुझ पर जब ये आरोप लगाया गया तो पुलिस फौरन हरकत में आई. मुझे जानवरों की तरह घसीटा. जब मैंने उनसे कहा कि मुझे पकड़ो मत, मैं कहीं भागूंगी नहीं, तब भी मुझसे बहुत बुरा सुलूक किया गया."

पिंकी ने दावा किया कि उनकी दूसरी मेडिकल रिपोर्ट में डॉक्टरों ने कह दिया कि वे किसी का बलात्कार कर ही नहीं सकती हैं और इसीलिए उन्हें जमानत दे दी गई है.

पिंकी प्रमाणिक रेलवे में कर्मचारी हैं. उन पर लगे बलात्कार के आरोप के बाद उन्हें सस्पेंड कर दिया गया था. पिंकी को उम्मीद है कि उनका निलंबन खत्म कर दिया जाएगा और सेवा में उन्हें फिर से बहाल कर दिया जाएगा.

पिंकी के मुताबिक वो अंदर से टूट चुकी हैं और कभी शादी नहीं करेंगी. उन्होंने बीबीसी को बताया कि उन्हें अपनी जान का खतरा भी है और उसके लिए उन्होंने पुलिस सुरक्षा की मांग भी की है.

पिंकी से हुई पूरी बातचीत के दौरान वो कई बार रोईं. उनकी मां ने मुझे बताया कि पिंकी ना कुछ खाती-पीती हैं ना ही किसी से बात करती हैं. ज्यादातर वक्त वो रोती रहती हैं.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.