प्रणब पर पलटी टीम अन्ना

टीम अन्ना का अनशन इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption टीम अन्ना के अनशन के दौरान एक समर्थक अन्ना की तस्वीर वाला झंडा लहराते हुए.

भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ और एक मज़बूत लोकपाल की मांग को लेकर दिल्ली के जंतर-मंतर पर अनशन कर रहे टीम अन्ना के सदस्यों ने भारत के नए राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के तस्वीर को ढक दिया है.

टीम अन्ना के अनुसार राष्ट्रपति बन जाने के बाद प्रणब मुखर्जी पर हमला करना ठीक नहीं है.

ग़ौरतलब है कि बुधवार को ही प्रणब मुखर्जी ने देश के तेरहवें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली और बुधवार सुबह से ही टीम अन्ना के कुछ सदस्यों ने जंतर-मंतर पर अनशन की शुरूआत की .

टीम अन्ना ने अनशन स्थल पर मौजूदा केंद्रीय मंत्रिमंडल के 15 मंत्रियों के पोस्टर लगा रखे हैं.

टीम अन्ना का कहना है कि उन सभी मंत्रियों के ख़िलाफ़ कथित भ्रष्टाचार के पुख़्ता सुबूत हैं और इसलिए सरकार को उनके ख़िलाफ़ जांच करनी चाहिए .

टीम अन्ना ने इसके लिए एसआईटी के गठन की मांग की है.

इससे पहले टीम अन्ना के एक अहम सदस्य अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि वह 25 जुलाई को भ्रष्टाचार के मामले में प्रणब के ख़िलाफ़ सबूत भी पेश करेंगे लेकिन अब ऐसा लगता है कि टीम अन्ना ने अपना फ़ैसला बदल लिया है.

संबंधित समाचार