माया कोडनानी: डॉक्टर से राजनीति का सफर

 शुक्रवार, 31 अगस्त, 2012 को 10:39 IST तक के समाचार

जब भी 2002 के गुजरात दंगों की बात होती है, तो कुछ नाम हमेशा ही उछल कर सामने आते रहे हैं. माया कोडनानी ऐसा ही एक नाम है.

नरोदा पाटिया दंगों के मामले में विशेष अदालत ने जिन 32 लोगों को दोषी माना है उनमें माया कोडनानी का भी नाम है.

माया कोडनानी भाजपा से तीन बार की महिला विधायक हैं और नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री थी. माया कोडनानी पहली महिला वर्तमान विधायक हैं जिन्हें गोधरा दंगों के बाद सजा हुई है.

नरोदा पाटिया की घटना 28 फरवरी 2002 को गोधरा कांड के बाद हुई थी जब अहमदाबाद के नरोदा पाटिया इलाके को घेर कर 97 लोगों की हत्या कर दी गई थी. आरोप था कि इस भीड़ का नेतृत्व कोडनानी ने किया था.माया कोडनानी नरेंद्र मोदी की काफी करीबी मानी जाती हैं.

आरएसएस सदस्य भी और डॉक्टर भी

माया का परिवार बटवारे से पहले पाकिस्तान के सिंध परिवार में रहता था लेकिन बाद में परिवार गुजरात आकर बस गया.

पेशे से माया कोडनानी गाइनकालजिस्ट थी और साथ-साथ आरआरएस की सदस्य भी बन गईं. वे डॉक्टर के तौर पर ही नहीं आरएसएस की कार्यकर्ता के तौर पर भी जानी जाती थीं.

नरोदा में उनका अपना मटर्निटी अस्पताल था लेकिन फिर वो स्थानीय राजनीति में सक्रिय हो गईं. अपनी वाक्पटुता की वजह से वे भाजपा में काफी लोकप्रिय थीं और आडवाणी के भी करीबी थीं.

राजनीति का सफर

1998 तक वो नरोदा से विधायक बन गईं. लेकिन 2002 के गुजरात दंगों में जब उनका नाम सामने आया तो उनकी साख को धक्का लगा.

2002 में ही हुए गुजरात विधानसभा चुनाव में वे विजयी रहीं.2007 के गुजरात विधानसभा चुनाव में भी माया कोडनानी फिर जीत गईं और जल्द ही गुजरात सरकार में मंत्री भी बन गईं.

पर 2009 में सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त विशेष टीम ने उन्हें पूछताछ के लिए समन किया. बाद में उन्हें गिरफ्तार किया गया तो उन्हें अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा.

हालांकि जल्द ही वे जमानत पर रिहा भी हो गईं. इस दौरान वे विधानसभा जाती रहीं और उन पर नरोदा पाटिया केस में मुकदमा भी चलता रहा.

29 अगस्त 2012 में आखिरकर कोर्ट ने उन्हें नरोदा पाटिया दंगों के मामले में दोषी करार दिया.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.