केजरीवाल का रास्ता अलग, मकसद वही: अन्ना

Image caption अन्ना ने पिछले साल जनलोकपाल के लिए बड़ा आंदोलन किया था

कभी टीम अन्ना के मुख्य सदस्य रहे अरविंद केजरीवाल का रास्ता अब अन्ना से अलग हो गया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक अन्ना ने पुणे में साफ कह दिया है कि वे चुनाव नहीं लड़ेंगे और न ही राजनीतिक पार्टी बनाएँगे.

कुछ दिन पहले अन्ना हजारे ने कहा था वो और उनकी टीम देश की जनता से पूछ कर ही राजनीतिक पार्टी बनाने का फैसला करेंगे.

लेकिन अन्ना ने कहा है कि अगर अरविंद पार्टी बनाते हैं तो इसका मतलब यही होगा कि भ्रष्टाचार मुक्त सरकार बनाने के उसी मकसद के लिए वे अलग रास्ता अपना रहे हैं.अन्ना ने ये बात पुणे में तब कही जब पत्रकारों ने उनसे पूछा कि क्या अरविंद केजरीवाल और वे अलग अलग हो गए हैं.

पीटीआई के मुताबिक अन्ना ने कहा, “अगर अरविंद की पार्टी ने कोई सही उम्मीदवार उतारा तो हम उस उम्मीदवार का समर्थन करेंगे, सभी उम्मीदवारों का नहीं.”

अरविंद केजरीवाल औपचारिक तौर पर राजनीतिक दल बनाने की घोषणा कर चुके हैं.

अन्ना ने कहा है कि वे समान विचारधारा वाले लोगों से विचार विमर्श करेंगे ताकि उनके आंदोलन की दिशा तय की जा सके और संसद में अच्छे लोगों को चुन कर भेजा जा सके. अन्ना हज़ारे कार्यकर्ताओं से बातचीत के लिए दिल्ली भी आ रहे हैं.

संबंधित समाचार